अखिलेश ने दिवाली पर बताया किसके साथ करेंगे गठबंधन, कौन होगा साथ और क्या होगी सपा की चुनावी रणनीति ?

इटावा: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि सपा विधानसभा चुनाव में बड़े दलों से गठबंधन नहीं करेगी जो छोटे दल तैयार होंगे उनके साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे। इसमें प्रसपा भी शामिल है। उन्होंने कहा कि सरकार बनी और प्रसपा साथ आई तो उसके नेता को मंत्री भी बनाएंगे। वह शनिवार दोपहर इटावा के सिविल लाइन स्थित अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव शुक्रवार की शाम सैफई पहुंचे और परिजनों संग दीपावली मनाई। शनिवार की दोपहर आवास पर आयोजित पत्रकार वार्ता में उन्होंने कहा कि बिहार चुनाव में भी भाजपा ने जनता के साथ धोखा किया। एक सवाल के जवाब में अखिलेश यादव ने कहा कि वह प्रसपा के साथ भी गठबंधन को तैयार हैं। जसवंत नगर सीट भी उन्होंने प्रसपा नेता शिवपाल यादव के लिए छोड़ रखी है। अबकी प्रदेश में सपा की सरकार बनेगी और साथ में चुनाव लड़ने पर प्रसपा नेता शिवपाल यादव को कैबिनेट मंत्री बनाया जाएगा।
उन्होंने कहा कि विकास की बात करने वाली भारतीय जनता पार्टी कि सरकार का विकास कहीं भी दिखाई नहीं दे रहा है जो भी प्रदेश में विकास है वह समाजवादी पार्टी नहीं अपनी सरकार में कराया था। सपा सरकार के कामों पर अपने पत्थर लगाने के काम में सरकार जुटी है।
अखिलेश यादव ने कहा कि 2022 का चुनाव सपा का होगा। जनता भाजपा के कामों से पूरी तरह ऊब चुकी है। कहा कि ईवीएम में गड़बड़ी करके ही भाजपा सरकार बना लेती है। इस मौके पर कांग्रेस और बसपा के एक दर्जन से अधिक नेताओं ने सपा की सदस्यता भी ली।
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126