अतीक के 200 करीबियों के बैंक खाते पुलिस के रेडार पर, काली कमाई का पूरा हिसाब लेने की तैयारी

प्रयागराज: माफिया अतीक अहमद की 350 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्तियों पर ऐक्शन के बाद अब सरकार ने उसके गिरोह के खिलाफ भी कार्रवाई की तैयारी शुरू की है। माना जा रहा है कि अतीक की काली कमाई का बड़ा हिस्सा उसके गिरोह के लोगों के पास जाता था। इसे में अतीक गैंग के करीब 200 सदस्यों के बैंक खाते अब एजेंसियों के रेडार पर आ गए हैं। अतीक अहमद की सारी बेनामी संपत्तियों को नष्ट करने के बाद अब अलग-अलग बैंकों को में चल रहे खातों को भी सीज कर दिया है।

बाहुबली अतीकअहमद की आर्थिक कमर तोड़ने में लगी सरकार ने बाहुबली के करीबियों में शुमार आबिद प्रधान, तोता उर्फ जुल्फिकार जैसे कई गुर्गों के खातों को जांचना शुरू कर दिया है। जांच के दायरे में अतीक अहमद के लड़के और उनके भाई पूर्व विधायक अशरफ के साथ कई रिश्तेदारों को भी शामिल किया गया है। आपको बता दें सभी खातों के लेन-देन का विवरण मिल जाने के बाद उनकी आय पर दिये गए इनकम टैक्स समेत सभी बिंदुओं की जांच की जाएगी।

डीएम की अनुमति से सीज किए जा सकते हैं खाते
माना जा रहा है कि खातों में अनियमितता मिलने पर उन्हें सीज कर करने के लिए डीएम से अनुमति मांगी जाएगी। गैंगस्टर एक्ट की धारा 14-1 में अतीक अहमद की संपत्तियों की जांच करने वाले इंस्पेक्टर नीरज वालिया का कहना है अतीक के साथ ही उनके करीबी रिश्तेदारों, शूटरों और गुर्गों के खातों की जांच की जा रही है। इसके अलावा इन बातों का भी पता लगाया जा रहा है कि अतीक को मिलने वाले काली कमाई किन-किन लोगों के बीच बांटी जाती थी।
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126