अपनों के आसपास टिकी CBI जांंच, पहली बार ना तो गांव पहुंची टीम न किसी को बुलाया

प्रतीकात्मक तस्वीर

हाथरस: जिले के बूलगढ़ी में कथित गैंगरेप के बाद युवती की मौत के बाद सीबीआई टीम जांच पड़ताल में जुटी है। सीबीआई ने जांच के 23 वें दिन पहली बार किसी को पूछताछ के लिए नहीं बुलाया। ना ही टीम गांव में किसी से जानकारी करने के लिए पहुंची। अब तक की जांच सीबीआई ने ‘अपनों’ से ज्यादा की है। ऐसे में माना जा रहा है सीबीआई को इस केस में अपनों पर ही शक है।
बूलगढ़ी में 14 सितम्बर को एक  युवती के साथ वारदात हुई। 29 सितम्बर को युवती की दिल्ली में उपचार के दौरान मौत हो गयी। उसके बाद एसआईटी ने पूरे मामले की जांच की,क्योंकि पुलिस पर लापरवाही के सवाल उठे रहे थे। इसलिए एसआईटी ने पूरे मामले में पुलिस की भूमिका की जांच पड़ताल की है। बाकी मुकदमे की विवेचना सीबीआई को दी गयी है। सीबीआई हर पहलू पर जांच पड़ताल कर रही है। लगातार कई कई बार आरोपी और पीड़ित परिवार के अलावा इस प्रकरण से जुड़े लोगों से बातचीत हो चुकी है। सीबीआई की जांच भी लगभग पूरी होने को है। बुधवार को सीबीआई के कैम्प कार्यालय पर सन्नाटा रहा। टीम के सदस्य गांव में भी नहीं गये। बताया जाता है कि टीम दिल्ली के लिए गयी है। हो सकता है कि टीम दिल्ली के सफदरगंज में जाकर जांच पड़ताल करे।
 सीआरपीएफ ने संभाल रखा है सुरक्षा का मोर्चा
पीड़ित परिवार की सुरक्षा का मोर्चा सीआरपीएफ ने संभाल रखा है। सीआरपीएफ हर वक्त मुस्तैदी के साथ परिवार की सुरक्षा में लगी है। ताकि कहीं कोई चूक न हो। बिना सीआरपीएफ की अनुमति के परिवार के लोग बाहर नहीं आ सकते है। अगर किसी को घर से बाहर आना होता है कि सीआरपीएफ  के जवान उनके साथ हर वक्त साये की तरह से रहते है। पीड़ित के घर आने वाले हर व्यक्ति का ब्यौरा रखा जा रहा है।
बिजली न मिलने से जवान परेशान 
सीआरपीएफ की कंपनी चंदपा थाने के पीछे रोहई गांव में बने स्कूल में ठहरी है,लेकिन सुबह चार बजे ही बत्ती गुल हो जाती है। इससे जवानों को कोई काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। कुछ जवान तो बिना नहाये ही ड्यूटी करने के लिए आ रहे है। इसे लेकर सीआरपीएफ के सब इंस्पेक्टर एचएस शर्मा ने सबसे पहले बिजली विभाग के एसई से बातचीत की और उसके बाद ज्वाइंट मजिस्ट्रेट को अपनी परेशानी के बारे में अवगत कराया।
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126