अवैध कामों के लिए चर्चित बनती जा रही राजेन्द्रनगर पुलिस चौकी

उरई (जालौन)। राजेन्द्र नगर चौकी इस समय लगातार चर्चाओं में है। अवैध कामो में अव्वल तो है ही साथ ही साथ चौकी इंचार्ज द्वारा फरियादियों के प्रार्थनापत्रों पर कार्यवाही न किये जाने से दबंगो के हौंसले बुलंद है और पीड़ित भी यही सोच लेता है कि अब उसकी फरियाद कोई नही सुनेगा। जिसका फायदा दबंग उठाते हुए देखे जा सकते है। चौकी इंचार्ज की यही अनदेखी के चलते छोटे छोटे मामले बड़ा रूप लेते गए जो शासन और प्रशासन के लिए सर दर्द बन सकते है।
सूत्रों की मानें तो राजेन्द्र नगर पुलिस चौकी क्षेत्र में हनुमान चबूतरा के पास रहने बाले राकेश जो कि स्कूटर मोटरसाइकल सुधारकर अपने परिवार का भरण पोषण करता है। उंसके और उसके परिवार के साथ दो दिन पहले मोहल्ले के ही कुछ दबंग लोगो ने मारपीट कर दी थी। कारण बस इतना सा था कि दबंग युवक उंसके घर के सामने बैठकर शराब पीकर अभद्रता करते थे। जब राकेश ने माना किया तो आधा दर्जन युवकों ने उसे उसकी पत्नी और उसकी भाभी ओर छोटे भाई के साथ मारपीट कर दी। पीड़ित ने राजेन्द्र नगर चौकी में प्रथानपत्र भी दिया लेकिन 48 घंटे से भी अधिक समय बीत जाने के बाद पीड़ित के प्रार्थनापत्र पर सुनबाई नही हुई। कार्यवाही न होने के चलते दबंगो के हौंसले बुलंद है। चौकी इंचार्ज की इसी अनदेखी के चलते पीड़ित भी अब ठुक पिटकर घर बैठना मुनासिफ समझता है। क्योकि उसे पता है कि साहब को गरीबो की मदद करने के लिए समय ही नही है। फिलहाल पीड़ित ने भी अब दबंगो के साथ साथ चौकी इंचार्ज पर भी आरोपियों की मदद किये जाने को लेकर आलाधिकारियों को अवगत कराने की बात कही है।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126