ऋण समितियों का अधिकार पुनः जेडीसी बैंक अध्यक्ष को दिया

उरई (जालौन)। सहकार भारती उत्तर प्रदेश की पहल से सहकारी एवम् ऋण समितियों का अधिकार पुनः जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष को दिया गया है इस फैसले से सहकारी योजनाओं में निर्वाचित प्रतिनिधियों का नियंत्रण रहेगा ।
सहकार भारती उत्तर प्रदेश के प्रदेश महामंत्री डॉ प्रवीण सिंह जादौन ने बताया किउत्तर प्रदेश सहकारी समिति अधिनियम 1965 की धारा 122 के अधीन उत्तर प्रदेश प्रारंभिक कृषि सहकारी ऋण समिति नियमावली 1976 को संशोधित कर जिले में एक जिला प्रशासनिक कमेटी बना दी थी जिसका अध्यक्ष सहकारिता के जिले के अधिकारी को बना दिया था उसमे जिला सहकारी बैंक के सभापति को नहीं रखा गया था यह आदेश पारित होते ही सहकार भारती उत्तर प्रदेश के एक प्रतिनिधिमंडल ने प्रदेश के सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा से मिलकर इसमें शीघ्र संशोधन करने को कहा था जिसे संज्ञान में लेकर सरकार ने पुनः जिला प्रशासनिक कमेटी का अध्यक्ष जिला सहकारी बैंक के सभापति को बना दिया है जिले के सहायक आयुक्त एवम् सहायक निबंधक सहकारिता इसके सदस्य सचिव होगे पांच सदस्यीय कमेटी में अपर जिला सहकारी अधिकारी जिला लेखा परीक्षा अधिकारी सहकारी समितियां एवम् जिला सहकारी बैंक के महाप्रबंधक इसके सदस्य बनाएं गए है ।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126