कमलनाथ ने सिंधिया को उनके किले मे दी मात

अनिल शर्मा+. संजय श्रीवास्तव+ राकेश व्दिवेदी
ग्वालियर चंबल संभाग क्षेत्र में 16 में से 9 सीटें जीतकर भाजपा में सिंधिया का कद कम कर दिया

ग्वालियर चंबल संभाग। कांग्रेस से भाजपा में आए सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को कांग्रेसमें तथा भाजपा में भी ग्वालियर चंबल संभाग का सबसे ताकतवर नेता माना जाता रहा है वे जब कांग्रेसमें रहते तो क्षेत्र की अधिकांश सीटें कांग्रेस के पाले में जाती थी इसीलिए भाजपा के शीर्ष नेतृत्व को विश्वास था कि अब सिंधिया जब कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आ गए हैं तो भाजपा के लिए सिंधिया का ग्वालियर चंबल संभाग का किला और मजबूत हो जाएगा| इसीलिए भाजपा शीर्ष नेतृत्व ने सिंधिया के साथ कांग्रेश छोड़कर आए आधा दर्जन मंत्री सहित कुल 22 विधायकों को सभी को उपचुनाव में भाजपा से टिकट दे दिए|

भाजपा नेतृत्व को यह विश्वास था ग्वालियर चंबल संभाग जो राजनीतिक दृष्टि से ज्योतिरादित्य सिंधिया का एक मजबूत खेला है यहां की कुल 16 सीटों में से 16 ही सीटें या अधिकांश सीटें सिंधिया के प्रभाव के कारण भाजपा ही जीतेगी लेकिन कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री

कमलनाथ ने दिग्विजय सिंह के साथ मिलकर इस ठाकुर एवं गुर्जर बाहुल्य वाले इलाके में ऐसी गोटे मिठाई केसरिया अपनी प्रसिद्धि के अनुरूप रिजल्ट देने के बजाय भाजपा खेमे में ही अपनी किरकिरी करा बैठे कांग्रेस ने ग्वालियर चंबल संभाग में कांग्रेस के प्रत्याशी के तौर पर विधानसभा क्षेत्र सुमावली में अजब सिंह, मुरैना में राकेश मावई मामा गोहद से मेवाराम जाटव कामा ब्यावरा से रामचंद्र दागी डबरा से सुरेश राजे करेरा से प्राणी लाल जाटव आगर से विपिन वानखेड़े, ग्वालियर पुर से सतीश सिकरवार और दिमनी से रविंद्र सिंह तोमर चुनाव जीतकर भाजपा के कद्दावर नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के ग्वालियर चंबल संभाग के मजबूत किले को भीषण क्षति पहुंचाई है| इससे सिंधिया काकद भाजपा मेघट गया है | जबकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा और मात्र संगठन राखी स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ताओं ने जिस ढंग से जी जान से जुट कर मध्यप्रदेश में 28 सीटों के उपचुनाव में 19 सीटें जीती हैं और भाजपा की सरकार को मध्यप्रदेश में और मजबूती दी है इससे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का भाजपा संगठन और जनता के बीच और ज्यादा बढ़ गया है.

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126