कोरोना का प्रकोप हाईकोर्ट पर भी भारी

इलाहाबाद हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश का आदेश 20 और 21 जुलाई को नहीं बैठेंगी अदालतें
ई-फाइलिंग से भी केस का नहीं होगा दाखिला

इलाहाबाद: उत्तरप्रदेश के उच्च न्यायालय पर भी कोरोना का इतना ज्यादा प्रभाव पड़ा है कि दो दिन के लिए सभी अदालतों को बंद कर दिया गया है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश गोविंद माथुर ने रविवार 19 जुलाई को बाकायदा लिखित आदेश जारी करके 20 एवम 21 जुलाई को हाइकोर्ट में न्यायिक कार्य को बंद करने का फरमान सुनाया है। उल्लेखनीय है कि इलाहाबाद सहित पूरे उत्तरप्रदेश में कोरोना के निरंतर बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सी.जे. गोविंद माथुर ने आदेश जारी किया है कि सोमवार और मंगलवार यानी 20 और 21 जुलाई को हाइकोर्ट की सभी अदालतें बन्द रहेंगी। तथा ई-फाइलिंग से भी केस का दाखिला नहीं हो सकेगा। गौरतलब बात यह है कि कोरोना के प्रकोप से हाइकोर्ट के भी बंद हो जाने से संक्रमण की गंभीरता का अंदाजा लगाया जा सकता है।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126