कहटा में अज्ञात कारणों से घर मे लगी आग
कालपी(जालौन): आटा थाना क्षेत्र के ग्राम कहटा में अज्ञात कारणों के चलते एक सुने गर में आग लग गई। जिससे घर मे रखा सामान व नगदी जलकर राख हो गई। घर मे आग उस वक्त लगी जब घर वाले बाहर काम पर गये थे। ग्रामीणों ने मिलकर आग पर काबू पाया। शुक्रवार को आटा थाना क्षेत्र के ग्राम कहटा निवासी सैय्यद्दीन अपने खेत मे पानी लगाने के लिए गया था।और उसकी पत्नी उरई मकान में गई थी। दोपहर को उसके सुने घर मे अज्ञात कारणों के चलते आग लग गई। आग की लपटें जब आसमान में उड़ी। तो ग्रामीणों ने देखा जिसपर मौके पर भीड़ लगना शुरू हो गई। सूचना पाकर सैय्यद्दीन भी मौके पर पहुँच गया। ग्रामीणों ने मिलकर आग बुझाई लेकिन तब तक आग ने अपना काम कर दिया था। और घर मे रखा 6 बोरा गेहूं , 3 कुंतल मटर , 1 कुंतल चना 10000 रुपये नगद व ग्रह गृहस्थी का सामान जलकर राख हो गया था। सैय्यद्दीन ने बताया कि मटर , व चना बोन के लिए रखा था। उसने बताया कि करीब 50 हजार रुपये का नुकसान हुआ है।
गुमशुदा वृद्ध की तलाश में पुलिस तथा सर्विलांस टीम जुटी
कालपी(जालौन): स्थानीय नगर से वीते ४ दिनों पहले अचानक गायब हुए ६३ वर्षीय वृद्ध का पता लगाने के लिए कोतवाली पुलिस एवं सर्विलांस टीम पता लगाने में जुट गई है। वीते २ नवंबर को मुहल्ला गणेशगंज निवासी रवि बाजपेई पुत्र कृष्ण नारायण अपने निजी घर से गायब हो गए। उक्त प्रकरण की गुमशुदगी की सूचना कोतवाली कालपी में ३ नवंबर को दर्ज कराई गई। प्रभारी निरीक्षक शिव गोपाल सिंह ने बताया कि गायब वृद्ध के पास मोबाइल फोन है। इस दृष्टिकोण से मोबाइल नंबर को सर्विलांस टीम के पास भेजकर पता लगाने के लिए पुलिस जुटी हुई है। वहीं रिश्तेदारों तथा संपर्क वाले लोगों से भी गायब वृद्ध का पता लगाया जा रहा है।
पराली जलाने पर चमारी गांव के १३ लोगों के खिलाफ मुकदमा
कालपी(जालौन): तहसील क्षेत्र के गांव में खेतों में पराली जलाने कर प्रदूषण फैलाने के मामले को लेकर क्षेत्रीय लेखपाल के द्वारा १३ काश्तकारों के खिलाफ आटा थाना में मुकदमा दर्ज कराया गया है। लेखपाल सतेंद्र कुमार महान ने थाने में अभियोग दर्ज कराते हुए अवगत कराया है कि चमारी गांव के १३ आरोपी काश्तकार अपने अपने खेतों में पराली जला रहे थे। जो कानून का उलंघन है। लेखपाल ने आरोपियों लोकेंद्र द्विवेदी, मयंक द्विवेदी, कुमार,राकेश कुमार, अशोक कुमार, उमेश कुमार,पजीतसिंह,कल्लू, जगराम, सरनाथ, दलवीर सिंह आदि के विरूद्ध धारा १८८,२७६,२९० व २९१ के तहत थाना पुलिस ने मामला दर्ज करके विवेचना शुरू कर दी है। इसके पहले भी आधा दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ क्षेत्रीय लेखपालों के द्वारा अलग अलग थानों में पराली जलाने का मुकदमा दर्ज कराया है।
पालिका बोर्ड की बैठक में नगर विकास के आधा दर्जन प्रस्ताव पारित
कालपी(जालौन): शुक्रवार को नगर पालिका परिषद कालपी के बोर्ड सदस्यों की बैठक पालिका अध्यक्ष बैकुंठी देवी की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में नगर के विकास के लिए आधा दर्जन प्रस्ताव पारित किए गए। पालिका के सभागार में आयोजित बैठक में अध्यक्ष ने कहा कि सभी सभासद विकास कार्यों के लिए सहयोग प्रदान करे। बैठक में पालिका का मासिक आप व्यय के लेखा माह जून,जुलाई,अगस्त व सितंबर २०२० को पास किया गया। दिवसीय असिमेंट सर्वे वर्ष २०२०२१ में वसूली हेड अंतिम रूप ना दिए जाने के कारण गत वर्ष की गृहकर की मांग वित्तीय वर्ष २०२०२१ में वसूली की स्वीकृति दिए जाने पर विचार किया गया। नगर के मोहल्ला आलमपुर में वन विभाग की बाउंड्री के आगे अमलतास तिराहे में पी जी पी मॉडल से मॉल का निर्माण करने पर सहमति बनाई है। दिवर्षीय गृहकर सर्वे वर्ष २०२०ऋ२१ की आपत्तियों की सुनवाई हेतु ३ सदशीय समिति के गठन का निर्माण किया गया। बैठक में अधिशासी अधिकारी सुशील कुमार दोहरे प्रमुख रूप से मौजूद रहे।संचालन की कार्यवाही अकाउंटेंट हर भूषण सिंह चैहान के द्वारा कि गई। दिलीप पाठक, अतुल सिंह चैहान, अरविंद यादव, भारत सिंह यादव, अविद खान, तावस्सुम बेगम, कमर जहां, शहरुन निशा, प्रीति सेंगर, मंटू विशनोई, सुनील गुप्ता आदि लोग मौजूद रहे।
14 नवंबर से कालपी हाईवे को जाम से पूरी तरह से मिलेगी निजात
दीवाली से दोनों साइड का 45 करोड़ की लागत के नवनिर्मित फोरलेन ओवरब्रिज मे गाड़ियां फर्राटा भरेगी
कालपी(जालौन): कालपी हाईवे में रोज रोज लगने वाले महाजाम से अगले हफ्ते से पूरी तरीके से निजात मिल जाएंगी। कालपी बाईपास में बहुप्रतीक्षित निर्माणधीन फोरलेन ओवरब्रिज में दोनों साइडों में १४ नवंबर से वाहनों का आवागमन पूरी तरह से शुरू हो जाएगा। इसके लिए जिला प्रशासन तथा कार्यदाई संस्था के द्वारा पुख्ता इंतजाम कर लिए गए है। विदित हो कि बाईपास की पोने दो किलोमीटर की सड़क निर्मित न होने से रोज रोज जाम लगता था। उत्तर एवं दक्षिण भारत को जोड़ने के लिए इसी राजमार्ग से होकर गाडियां निकलती थी फलस्वरूप आये दिन भारी जाम लग जाता था। जिलाधिकारी मन्नान अख्तर तथा एस. पी. डॉ यशवीर सिंह १ नवंबर को एक साइड से ओवरब्रिज से छोटे वाहनों का आवागमन शुरू करा दिया था। जिलाधिकारी ने बताया कि १४ नवंबर को ओवरब्रिज में गाड़ियों का संचालन शुरू हो जाएगा। फलस्वरूप जाम की समस्या हमेशा के लिए खत्म हो जाएंगी।
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126