आर्युवेद के जनक भगवान धन्वंतरि जयन्ती मनाई गयी
कालपी(जालौन)  नगर के चिकित्सकों ,के द्वारा भगवान धन्वंतरि का पूजन अर्चन जयंती का आयोजन किया गया। आर्युवेद पद्धति के जन्म दाता भगवान धनवंतरि जयंती कार्यक्रम विधि विधान से सम्पन्न हुआ।
बनारसी दास विश्नोई के चिकित्सालय इलाज घर, टरननगंज कालपी में आयोजित समारोह में औषधियों के देवता भगवान धन्वंतरि का पूजन किया गया।पूजन के दौरान नगर के डॉक्टरों, दवा विक्रेताओ, स्वास्थ्य कर्मी एवं नगर के अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे। पूजन के पश्चात डॉ नरेश मैहर द्वारा कोरोना का बचाव करते हुए निरंतर नगर वासियों की सेवा का संकल्प लिया और सभी स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े लोगों को समाज के प्रति सेवा भाव का महत्वपूर्ण संदेश दिया।डाक्टर अनिल दिक्षित, डाक्टर राजेंद्र कुमार गुप्ता, डाक्टर अयूब राईन, डाक्टर हर्ष अग्रवाल, डाक्टर आफताब आलम, डाक्टर सुरेशचन्द्र प्रजापति, डाक्टर फिरोज हाशमी, अनिल कुमार पोरवाल, हरेंद्र सचान ,पत्रकार राजनारायण शुक्ला, भूपेन्द्र विश्वकर्मा आदि लोगों ने औषधियों के देवता भगवान धन्वंतरि का आशीर्वाद प्राप्त किया गया। कार्यक्रम के दौरान आचार्य आनंद दिक्षित द्वारा भगवान धनवंतरी से जुड़े वेद वाक्यों विस्तार से वर्णन किया गया। उन्होंने भगवान धन्वन्तरि तथा उनके द्वारा प्रति पारित आर्युवेद के सिद्धांत के बारे में विस्तार से सभी को समझाया कि किस तरह देवताओं और असुरों द्वारा समुद्र मंथन किया गया और औषधियों की देवताओं के रूप में भगवान धनवंतरी अमृत कलश लेकर प्रकट हुए और आगे चलकर भगवान धनवंतरी द्वारा समस्त लोको में उपचार व कल्याण किया तब से लेकर अभी तक भगवान धनवंतरी की जयंती सभी स्वास्थ्य कर्मी पूरे भारतवर्ष में धूमधाम से मनातेहै।
शिविर मे 107 रोगियों को वाटी आयुर्वेदिक दवाइयां
कालपी(जालौन) कालपी स्थित राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय की ओर से कालपी के मुहल्ला महमूदपुरा के सार्वजनिक स्थान में स्वास्थ एवं चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में चिकित्साधिकारी ने 107 रोगियों का स्वास्थ परीक्षण करके आयुर्वेदिक दवाइयों का वितरण किया। प्राप्त जानकारी के अनुसार आयोजित शिविर में चिकित्साधिकारी डॉ पूर्णिया चटर्जी ने कहा कि आयुर्वेदिक उपचार की प्राचीन पद्धति आज भी कायम है। आयुर्वेदिक दवाइयों के प्रयोग से मानव शरीर में कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है। उन्होंने बताया कि सर्दी,ज़ुखाम,बुखार,पेट, लीवर,दिल,रक्तचाप,आदि जटिल रोगों का इलाज आयुर्वेदिक चिकित्सा में है। उन्होंने उपस्थित लोगों को जागरूक करते हुए कहा कि आयुर्वेदिक के काढा का प्रयोग करने से मानव शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इस मौके पर रोगियों को आयुर्वेदिक दवाइयों की वितरण करके जागरूक किया। डॉ पूर्णिया चटर्जी,प्रमोद कुमार पाण्डेय,अर्चना तिवारी,गीता रामस्नेही शर्मा,शिव कुमार,रानी शर्मा,कमरूद्दीन,काशीप्रसाद,राज किशन आदि लोग मौजूद रहे।
15 वर्षों के बाद पूर्णता मिली जाम से निजात
कालपी(जालौन) शुक्रवार को ज़िला प्रशासन के निर्देश पर उपजिलाधिकारी जयंत कुमार आई. ए. एस. तथा प्रभारी निरीक्षक शिवगोपाल सिंह की मौजूदगी में कालपी के नवनिर्मित हाईवे फोरलेन ओवरब्रिज के उपर कानपुर उरई साइड की लेन में भी समस्त प्रकार के वाहनों का संचालन शुरू करा दिया गया है। दोनों साइड आवागमन शुरू होने से बीते डेढ़ दशक कालपी में लगने वाले जाम की समस्या से जनता को हमेशा के लिए निजात मिल गया। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण की फोर/सिक्सलेन सड़क चौड़ीकरण परियोजना में कालपी हाईवे का कार्य लटका हुआ था। एन. एच. ए.आई. लखनऊ के क्षेत्रीय अधिकारी अब्दुल वासित,कानपुर इकाई के परियोजना इकाई परियोजना निदेशक पंकज मिश्रा,तकनीकी अधिकारी देवकी नंदन की निगरानी में दो साल में ओवरब्रिज का निर्माण कराया गया है। नागार्जुन कंस्ट्रक्शन कंपनी लिमिटेड हैदराबाद, मित्तल, रिशु कंस्ट्रक्शन कंपनी लखनऊ, ओ. वी.आई. एल. के सीनियर प्रबंधक गणेशन, डी. एन.त्रिपाठी,फरीद अहमद अंसारी, अयोध्या प्रसाद आदि इंजीनियरों ने ओवरब्रिज तथा सर्विस लेन का कार्य कराया। तीन दिन पहले एक साइड से गाडियां फर्राटा भरने लगी थी
55 लीटर अवैध कच्ची शराब सहित दो महिलाएं गिरफ्तार
कालपी(जालौन)शराब के अवैध कारोबारियों पर नकेल कसने के लिए स्थानीय कोतवाली पुलिस ने छापा मारकर कबूतरा डेरा से भारी मात्रा में दारू समेत दो महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया है।मालूम हो कि दीपावली पर्व के मौके पर ज़िला प्रशासन के निर्देश पर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक शिवगोपाल सिंह,इंस्पेक्टर क्राइम उमाकांत ओझा, एस. एस.आई.दिनेश कुरील उप निरीक्षक कौशल किशोर ने आवकारी विभाग की टीम ने लंगर पुर गांव के फातमा माता स्कूल के समीप कबूतरा डेरा में छापा मारा।महिला पुलिस सिपाहियों कि मौजूदगी में टीम ने आरोपी महिलाओं सविता पत्नी सचिन तथा प्रीति पत्नी अभिषेक निवासीगण कबूतरा डेरा को गिरफ्तार कर लिया। टीम ने आरोपियों के कब्जे से 55 लीटर कच्ची नजायत शराब को बरामद कर लिया। पुलिस ने आरोपी महिलाओं को ससेगत धाराओं में चालान कर दिया।
कालपी हाईवे मे ओवरब्रिज बनने पर डी.एम. को इमाम ने मुबारकबाद पेश की
कालपी(जालौन) कालपी हाईवे मे लगने वाले महाजाम के बारे में देश के तमाम शहरों के लोग जानते हैं।डेढ़ दशक तक वाहनों तथा राहगीरों को जाम में फंसने से समस्याओं से जूझना पड़ा है। नगर की बड़ी मस्जिद के इमाम हाफिज इरशाद अशरफी ने बताया कि जिलाधिकारी डा.मन्नान अख्तर की पहल पर कालपी हाईवे का ओवरब्रिज व रोड निर्मित होने पर मुझे बेहद खुशी तथा शान्ति महसूस हुई है। हाफिज इरशाद अशरफ़ी ने बताया कि 12 अप्रैल सन 2014 को मेरा मासूम साढे छह वर्ष का बेटा मु० फैजान घर से निकलकर दयानन्द स्कूल पढ़ने के लिए जा रहा था तो इसी रोड हाईवे फुलपावर चौराहे पर एक ट्रक ने उसका एक्सीडेंट कर दिया था।फलस्वरूप घटनास्थल पर ही मेरे बेटे की मौत हो गई थी। जब मैंने अपने प्यारे से बेटे को खोया था तो उसी दिन से मैंने यह ठान लिया था कि अब मैं इस हाइवे पर दुर्घटना में और मौत नही होने दूंगा। मैं इसे बनवाने के लिए पूरा प्रयास करूंगा। उसी महीने से मैंने शहर के जिम्मेदार व असरदार लोगों से हिंदू-मुस्लिम दोनों वर्गों के साथ मीटिंग करना शुरू किया। एक कमेटी भी बनाई जिसका नाम “हिंदू- मुस्लिम एकता संघर्ष समिति” रखा गया इस कमेटी को चलाने के लिए मेरे साथ में पूर्व विधायक छोटे सिंह चौहान, भाजपा नेता जय खत्री व और कुछ शहर के लोगों ने पूरा सहयोग दिया और इस हाइवे को बनाने के लिए मैंने बेशुमार मीटिंगे भी की, एक बहुत बड़ी तादाद में हिंदू- मुस्लिम के साथ मिलकर मानव श्रंखला भी बनाई जिसमें विधायक नरेंद्र सिंह जादौन व महंत जमुनादास ने अपना पूरा सहयोग दिया।मेरा एक ही प्रयास था कि मैंने अपने लखते जिगर मु० फैज़ान को इस हाईवे में गवां दिया है अब और मॉओ की गोद न सूनी होने पाए, अल्लाह का शुक्र है कि मैंने इस लड़ाई का जो इरादा नियत करके आगे बढ़ाई थी आज उसे पूरा होते हुए देख कर बड़ी प्रसन्ता खुशी मयस्सर हो रही है। मैं इस काम के लिए जिलाधिकारी डॉ. मन्नान अख्तर की सराहना करता हूं और उन्हें मुबारकबाद देता हूं।
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126