गल्ला मण्डी राधा-कृष्ण मंदिर पर नहीं मनेगा जन्माष्टमी का त्योहार

गल्ला ब्यापार संघ अध्यक्ष प्रदीप माहेश्वरी ने लिया निरणय

उरई(जालौन)। जनपद में बढ़ते कोरोना संक्रमित मरीजों को देखते हुए इस वर्ष पहली बार शहर के राठरोड़ स्थित गल्ला मण्डी में स्थित राधा-कृष्ण मंदिर में जन्माष्टमी के महोत्सव को निरस्त करने का प्रस्ताव पारित किया गया है।
उक्त जानकारी देते हुए गल्ला ब्यापार संंघ के अध्यक्ष प्रदीप माहेश्वरी ने बताया कि कोरोना काल ने पूजापाठ के भी तौर-तरीके भी बदल कर रख दिये है। उन्होंने बताया कि हर वर्ष हजारों भक्तों के बीच में राधा-कृष्ण मंदिर पर जन्माष्टमी का त्योहार मनाया जाता रहा है। मगर इस बार बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए जन्माष्टमी महोत्सव पर रोक लगा दी गयी है।इस बार ना तो कोई मेला लगेगा और न ही कोई आयोजन होगा। उन्होंने बताया कि जन्माष्टमी के त्योहार पर केवल पुजारी ही रात 12 बजे कृष्ण जन्म और पूजापाठ करायेगें इसके बाद मंदिर के कपाट बंद कर दिये जायेंगे। उन्होंने बताया कि सरकार की गाइड लाइन के अनुसार ही जन्माष्टमी का त्योहार मनाया जायेगा। उन्होंने बताया कि पुजारी जो भोग लगायेगा उस प्रसाद का अगले दिन भक्तों को वितरण किया जायेगा।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126