गुना जिले में दलितों के ऊपर अत्याचार के खिलाफ राष्ट्रपति को सम्बोधित डीएम को सौपा ज्ञापन

रिपब्लिकन पार्टी आई के नेताओं ने घटना पर जताया आक्रोश

उरई (जालौन)। गुना जिले के कैंट थाना क्षेत्र के अंर्तगत ग्राम जगनपुर चक में अनुसूचित जाति किसान दम्पत्ति राजकुमार अहिरवार ए्वं सावित्री वाई पर पुलिस द्वारा बर्वता तरीक़े से लाठियां बरसाने और उन्हें जहर पीने को मजबूर करने वाली घटना पर भारतीय रिपब्लिकन पार्टी आई के राष्ट्रीय महासचिव मनोज अहिरवार ने आक्रोश ब्यक्त करते हुए राष्ट्रपति को सम्बोधित ज्ञापन अतिरिक्त मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौप कर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही एवं पीड़ितों को मुआवजा दिये जाने की मांग उठाई।
संगठन के राष्ट्रीय महासचिव मनोज अहिरवार के नेतृत्व में जगराम, रागिनी खन्ना, रमाकांत कौशल, महिपाल सिंह, रामशंकर ओझा, प्रदेश महासचिव साकिर अहमद, लाखन सिंह बाबा, अजय कुमार आदि ने कलेक्ट्रेट पहुंच कर राष्ट्रपति को सम्बोधित ज्ञापन अतिरिक्त मजिस्ट्रेट को भेंट किया। जिसके माध्यम से बताया है कि 14 जुलाई को घटित हुई घटना की निंदा करते है। उन्होंने बताया कि गुना जनपद के थाना जगनपुर चक में पुलिस कर्मियों ने लाठी चार्ज कर दोनो दम्पत्ति को जहर का सेवन करने के लिए मजबूर किया जिससे उक्त दम्पत्ति की जीवन लीला समाप्त हो गयी। जिनके आश्रितों को पर्याप्त मुआवजा प्रदान किया जाये तथा दोषी पुलिस कर्मियों एवं शासकीय अधिकारी व कर्मचारियों के खिलाफ सम्बंधित धाराओं के तहत मुकदमा पंजीकृत किया जाये। जिससे समूचे देश में कही भी अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के साथ इस तरह की घटना की पुनरावृत्ति न हो सके।