ग्रामीणों का आरोप नजराना न भरने पर नहीं मिली राशन किटें

उरई (जालौन)। माधौगढ़ तहसील क्षेत्र ग्राम जमरेही अव्वल में बाहर से आए प्रवासी मजदूरों ने लेखपाल पर आरोप लगाया कि सुविधा शुल्क न देने के कारण राशन किटें नहीं दी गई। दो दर्जन से अधिक मजदूरों ने इस सम्बंध उप जिलाधिकारी से शिकायत की। ग्राम जमरेही अव्वल के मजदूरों ने लेखपाल पर आरोप लगाते हुए कहा कि शासन द्वारा प्रवासी मजदूरों के लिए राशन किटें वितरण करने को दी गई थी लेकिन लेखपाल का कहना है कि पांच सौ रुपए लगेगा तभी मजदूरों को राहत सामाग्री मिल पाएगी। इसके अतिरिक्त मजदूरों का यह भी कहना रहा कि शासन द्वारा राहत के तौर पर एक हजार रुपए की धनराशि दी गई थी लेकिन न ही राशन किटें ही मिली न ही कोई धनराशि एेसे में दो दर्जन से अधिक प्रवासी मजदूरों ने इकट्ठा होकर उपजिलाधिकारी सालिकराम से न्याय की गुहार लगाई है। इसी दौरान धर्मेंद्र सिंह, वीरेंद्र, रंजना देवी आदि मौजूद रहे।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126