चीफ सेकेट्री का आदेशः अधिकारियों को 11 से 2 बजे तक कार्यालय मे बैठकर करनी होगी जनसमस्याओं की सुनवाई

उरई: मुख्य सचिव के आदेश का अनुपालन करते हुए जिलाधिकारी डा. मन्नान अख्तर ने जिले के तहसील से लेकर ब्लाक तक के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि जनसुनवाई के लिए प्रत्येक अधिकारी को ग्यारह से एक बजे तक कार्यालय में उपलब्ध रहना होगा।
कोरोना को मद्देनजर रखते हुए जनसुनवाई करते समय शारीरिक दूरी का ध्यान रखना होगा। कम से कम दो गज की दूरी होना आवश्यक है। इसके साथ साथ शिकायतकर्ता को मास्क लगाना अनिवार्य है। आदेश का पालन सोमवार से करना होगा। यही आदेश जिला मुख्यालय के अधिकारियों के लिए भी किया है। पुलिस विभाग के अधिकारियों को भी ग्यारह से एक बजे तक जनसुनवाई करनी होगी। इस आदेश के बाद शिकायतकर्ताओं को सहूलियत जरूर दिखाई दी क्योंकि पिछले चार माह से अधिकारी शिकायत सुन ही नहीं रहे थे और कोरोना के बहाने कार्यालय से नदारत रहते थे।
ग्यारह से एक बजे तक अधिकारी सुनेंगे जनता की समस्याएं: तहसीलदार
जालौन: अब समस्त विभागों के अधिकारी सुबह ग्यारह से दोपहर एक बजे तक अपने अपने कार्यालयों में बैठकर लोगों की समस्याओं को सुनेंगे और उनका निस्तारण करेंगे। यह जानकारी तहसीलदार बलराम गुप्ता ने दी है। उन्होंने  बताया कि कोरोना को लेकर जिलाधिकारी का नया आदेश आया है जिसके तहत कोरोना के संक्रमण की रोकथाम, बचाव एवं प्रशासनिक व्यवस्था को सुदृढ़ करने निर्देश दिए गए हैं। आदेश के अनुसार अब समस्त पुलिस व प्रशासनिक विभागों अधिकारियों को कार्यालयों में अपनी उपस्थिति दर्ज करानी होगी। सभी अधिकारी सुबह ग्यारह से दोपहर एक बजे तक अपने अपने कार्यालयों में बैठकर जनता की समस्याओं को गंभीरता से सुनेंगे साथ ही उनका उचित निस्तारण भी करेंगे। जनसमस्याओं के निस्तारण में किसी भी प्रकार की हीलाहवाली बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी विभागों के अधिकारी जिलाधिकारी के उक्त आदेश का अनुपालन सुनिश्चित करें।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126