जिला जालौन में जल्दी ही बनेगी आम जनता के लिए स्थाई लोक अदालत- जिला ज़ज

उरई (जालौन ) : जल्दी बनेगी आम जनता के लिए स्थाई लोक अदालत जिससे लोगों को भारी राहत मिलेगी इसके लिए प्रयास जारी कर दिए गए हैं।
उक्त बात जनपद न्यायाधीश अशोक कुमार सिंह ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से अवगत कराई।
उन्होंने बताया कि जनपद मैं जनोपयोगी सेवाओं से सम्बन्धित विवादों के निस्तारण हेतु ‘‘विधिक सेवा प्राधिकरण अधिनियम की धारा- 22बी‘‘ के अन्तर्गत सृजित की गयी। स्थाई-लोकअदालत के गठन की प्रक्रिया संचलित है, जो कि शीघ्र ही पूर्ण होने की सम्भावना है। स्थाई-लोकअदालत के संचालन हेतु किराये पर उपयुक्त भवन की आवश्यकता है। इसके लिये ऐसे भवनों को वरीयता दी जायेगी, जो जिला दीवानी न्यायालय, उरई परिसर के समीप स्थित हों। उक्त प्रयोजन हेतु पीठासीन अधिकारी व सदस्यों के लिये न्यायालय कक्ष /विश्राम कक्ष, स्टाफ कार्यालय इत्यादि के लिये कम से कम 04 बड़े कमरों के साथ 02-02 शौचालय व स्नानागार तथा मोटर-कार वाहन के पार्किंग हेतु उपयुक्त स्थान की आवश्यकता है। ऐसे भवन का अधिकतम किराया 15,000/- (पन्द्रह हजार रू0)/प्रतिमाह होगा तथा जलकर एवं विद्युत पर होने वाला व्यय किराये की धनराशि के अतिरिक्त देय इच्छुक भवन-स्वामी एक सप्ताह के अन्दर अधोहस्ताक्षरी को लिखित रूप से अपना सहमति-पत्र जिला प्राधिकरण जालौन की अधिकृत मेल- आईडी कसेंरंसंनद/हउंपसण्बवउ पर ई-मेल से अथवा किसी भी कार्य-दिवस में व्यक्तिगत रूप से कार्यालय में प्रस्तुत कर सकते हैं। सहमति-पत्रों पर विचारण के उपरान्त न्यूनतम किराये वाले भवन-स्वामी के साथ नियमानुसार अनुबन्ध किया जायेगा। किसी भी सहमति-पत्र को निरस्त करने का अधिकार मा0 अध्यक्ष/जनपद न्यायाधीश, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, जालौन, स्थान उरई को सुरक्षित है। उक्त सूचना जिला प्राधिकरण कार्यालय, जिला दीवानी न्यायालय, एवं कलैक्ट्रेट उरई के नोटिस बोर्ड पर सूचनार्थ चस्पा की जाये।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126