झाँसी मंडल में तेजी से हो रहा है 351 तालाबों की खुदाई, 149 चैक डेमों की सिल्ट सफाई का काम- आयुक्त

70 प्रतिशत जॉब कार्ड धारकों को कोरोना काल के पिछले तीन महीनों में 30 दिनों का काम दिया गया
पेयजल के लिए ऐसे कुएं बनाये जाएं जिनसे सिचाई भी हो सके
बरुआ सागर बांध को पर्यटन क्षेत्र के रूप ने विकसित करेंगे
अनिल शर्मा+संजय श्रीवास्तव+डॉ. राकेश द्विवेदी
झाँसी: झाँसी मंडल के आयुक्त सुभाष शर्मा ने कहा कि उनकी कोशिश थी कि बरसात के पहले झाँसी मंडल तीनों जिलों क्रमशः झाँसी, जालौन, ललितपुर में कुल 351 तालाबों में खुदाई एवं गहरी करण का कार्य पूरा हो जाए। इसी तरह मंडल के 149 चैक डेमों की सिल्ट सफाई का काम पूरा हो जाए। इसलिए माह अप्रैल से यह कार्य शुरू करा दिया गया था। जो अब तेजी से समाप्ति की ओर बढ़ रहा है। इसी तरह चैक डेमों में सिल्ट सफाई का काम भी तेजी से चल रहा है। वो आज यंग भारत से बात कर रहे थे। कमिश्नर श्री शर्मा ने बताया कि जालौन जिले में कुल 136 तालाबों में खुदाई और गहरी करण का कार्य चल रहा है। जबकि 63 चैक डेमों में सिल्ट सफाई का काम तेजी से चल रहा है। ये दोनों काम जिलाधिकारी जालौन डॉ. ममन्नान अख्तर के नेतृत्व में कराय जा रहे हैं। इसी तरह झाँसी जिले के 145 तालाबों में खुदाई व गहरी करण का कार्य हो रहा है। जबकि 40 चैक डेमों में सिल्ट सफाई का काम हो रहा है। ये दोनों कार्य डीएम झाँसी आंध्र बामसी के नेतृत्व में ये दोनों काम हो रहे हैं। इसी प्रकार ललितपुर जिले में डीएम योगेश शुक्ला के नेतृत्व में 40 तालाबों की खुदाई और गहरी करण तथा 46 चैक डेमों में सिल्ट सफाई का काम चल रहा है। आयुक्त श्री शर्मा ने कहा कि बरसात अब लगभग शुरू हो रही है। इसलिए अब जो भी बरसात होगी उसका पर्याप्त मात्रा में पानी इन तालाबों और चैक डेमों में भर जाएगा। वह खेती और घरेलू उपयोग में आ जायेगा। इसके अलावा पशु, पक्षियों को भी आसानी से पीने के लिए पानी सुलभ हो जाएगा। एक सवाल के जवाब में कमिश्नर श्री शर्मा ने बताया कि झाँसी मंडल में कुल 7 लाख 25 हजार 376 जॉब कार्ड धारक मजदूर पंजिकृत हैं। इनमे से झाँसी जिले में 2 लाख 29 हजार 053, जालौन जिले में 2 लाख 71 हजार 982 तथा ललितपुर जनपद में 2 लाख 24 हजार 341 पंजिकृत जॉब कार्ड धारक मजदूर हैं। एक सवाल के जवाब में श्री शर्मा ने बताया इनमे से सक्रिय जॉब कार्ड धारी मजदूरों की कुल संख्या 3 लाख 50 हजार 613 है। जिनमे सबसे ज्यादा जालौन जिले के 1 लाख 32 हजार 175 जॉब कार्ड धारी सक्रिय मजदूर हैं। जबकि झाँसी जिले मे 1 लाख 2 हजार 832 सक्रिय जॉब कार्ड धारक मजदूर हैं। इसी तरह ललितपुर जिले में कुल 1 लाख 15 हजार 606 सक्रिय जॉब कार्ड धारक मजदूर हैं। एक सवाल के जवाब में आयुक्त श्री शर्मा ने बताया कि लॉक डाउन के दौरान 25 मार्च के बाद से उन्होंने प्रवासी मजदूरों सहित सक्रिय जॉब कार्ड धारक मजदूरों में से 70 प्रतिशत जॉब कार्ड धारक मजदूरों को पिछले तीन महीनों में प्रत्येक मजदूर परिवार को 30 दिन का मनरेगा के तहत रोजगार उपलब्ध करा दिया है। प्रवासी मजदूरों को भी तीन माह तक प्रति यूनिट 7 किलो चावल तथा 3 किलो गेहूं मुफ्त में उपलब्ध कराया गया है। इसी तरह स्किल्ड और अनस्किल्ड मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है। एक सवाल के जवाब में श्री शर्मा ने कहा कि उन्होंने झाँसी मण्डल के तीनों जिलों के डीएम को यह निर्देश दिए हैं कि वे अपने-अपने जिलों में कुओं की खुदाई करवाएं। इसके लिए शासन ने 2 लाख से 6 लाख रूपए तक प्रति कुएं के हिसाब से बजट का प्रावधान किया है। इससे पेयजल और बड़े कुओं से खेती और किचन गार्डन की सिचाई का काम किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि झाँसी जिले का बरुआ सागर बांध चंदेल कालीन इंजीनियरिंग का अद्भुत नमूना है। इस बांध की उन्होंने साफ सफाई करवाई है। यह हल्दी और अदरक का पूरे प्रदेश में एक बड़ा हब है। इस बांध का और सुंदरी करण कराया जाएगा। ताकि यह एक बेहतर पर्यटन स्थल के रूप में उभर सके।
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126