डिकौली गौशाला की बदइंतजामी पर जारी है आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला

मुर्दाबाद के नारों से गूंजा चेयरमैन का दरवाजा
गाय को सड़क पर रखकर युवाओं ने किया हंगामा
उरई (जालौन)। माधौगढ तिल तिल कर मर रहे गोवंश को लेकर लोगों का गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा है। नगर पंचायत अपने बचाव के लिए बीमार गोवंश को गौशाला से हटाने के काम में जुटा है तो युवा बिग्रेड ऐसे गोवंश को ढूंढ ढूंढ कर उनका इलाज करने में जुटा है। नगर पंचायत अध्यक्ष राजकिशोर गुप्ता ठीकरा लिपिक पुरुषोत्तम तिवारी के ऊपर फोड़ रहे हैं। तो लिपिक ने भी दो टूक कह दिया कि अध्यक्ष के भी साइन प्रत्येक टेंडर पर हैं। इसलिए जनता की नजर में नगर पंचायत प्रशासन जितना दोषी है तो उतने दोषी अध्यक्ष भी हैं। इसलिए अब अध्यक्ष और नगर पंचायत प्रशासन आपस में साठगांठ करने में लग गए,क्योंकि 4 दिन गुजरने के बाद भी अध्यक्ष ने कोई उच्च स्तरीय जांच या कार्रवाई की मांग नहीं कर पाई,सिर्फ एक नोटिस देने की बात कही है। जांच न होने से गुस्साए युवाओं ने रात को ऊमरी रोड से तड़पती गाय को उठा लाए और अध्यक्ष राज किशोर गुप्ता के दरवाजे पर रखकर मुर्दाबाद और हाय हाय के नारे लगाए। युवाओं ने राजकिशोर गुप्ता के भ्रष्टाचार पर 2 घंटे जमकर तमाशा किया। बाद में पुलिस आई तो मामला शांत हो सका। युवाओं ने पूरी घटना का लाइव वीडियो भी बनाकर शेयर किया। जिसके बाद हजारों लोगों का आक्रोश अध्यक्ष राजकिशोर गुप्ता और नगर पंचायत के खिलाफ पनपने लगा है। बल्कि कहा तो यह जा रहा है कि इस पूरे मामले पर अन्य राजनैतिक दलों के लोग भी चुप नहीं बैठना चाहते और इस भ्रष्टाचार पर जांच की मांग करना चाहते हैं।