परिजनों ने जिसे मरा समझकर दफनाया वो जिंदा लौटा अपने घर, पुलिस के सामने अब खड़ी हुई यह चुनौती…

कानपुर: उत्तर प्रदेश के कानपुर जिला में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. जिसमें एक युवक जिसे उसके परिवारवालों ने मृत समझ दफना दिया है, वो वापस लौटकर अपने घर आया है. वहीं इस मामले के सामने आने के बाद कानपुर पुलिस भी चौंक गई है. और अब पूरे मामले को अपने स्तर से सुलझाने में लगी है.

परिजनों ने शव की शिनाख्त कर दफनाया 

दरअसल कानपुर के निवासी अहमद हसन (39) के परिजनों ने उसके गुमशुदगी की रिपोर्ट कानपुर के चकोरी थाने में कुछ दिनों पहले जाकर लिखवाई थी. पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी. जिस दौरान एक लावारिश लाश पुलिस ने बरामद की. अहमद के परिजनों को शव की शिनाख्त के लिए बुलाया गया था जिसमें उन्होंने शव की पहचान अहमद के रूप में की और अपने साथ ले गए थे. उन्होंने उस शव को घर ले जाकर दफना दिया.

जिस अहमद को मृृत समझ परिजनों ने दफनाया वो लौटा घर 

कहानी में एक नया मोड़ तब आया जब जिस अहमद को मरा हुआ समझ उसके परिजनों ने दफना दिया वो शुक्रवार को अपने घर आ गया. जिसके बाद घर व आस-पास के लोग चौंक गए. वहीं पुलिस को इस बात की जानकारी मिलते ही उन्होंने अहमद व उसके परिजनों से मामले की पुछताछ की. जिसमें अहमद ने बताया कि उसका अपनी पत्नी से झगड़ा हो गया था. जिसके कारण वह घर छोड़कर भाग गया था. तीन दिन बाद जब वह घर वापस लौटा तो पता चला कि उसके मृत घोषित कर दफना दिया गया है.

पुलिस के सामने खड़ी हुई चुनौती

कानपुर के SSP प्रीतिंदर सिंह ने समाचार एजेंसी ANI को कहा कि अब पुलिस के सामने चुनौती ये है कि जिसे दफनाया गया, वो कौन था? वहीं उन्होंने कहा कि दफनाए गए व्यक्ति का पोस्टर पूरे शहर में चिपकाया जाएगा ताकि उसकी पहचान हो सके.

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126