पलंग पर पिता का शव, नीचे सोता था बेटा, 2 दिन बाद घर में घुसी पुलिस रह गई दंग

भिंड के सब्जी मंडी इलाके में घर से एक व्यक्ति की लाश मिली है। शव कमरे के अंदर पलंग पर पड़ा हुआ था, जबकि बेटा जमीन पर बेसुध सोया हुआ था। घर में सिर्फ बाप-बेटे ही रहते थे। 2 दिन तक घर से जब कोई बाहर नहीं निकला, तो पड़ोसियों को शंका हुई। उसके बाद घटना की जानकारी लोगों ने पुलिस को दी। भिंड पुलिस घटना स्थल पर पहुंच कर पड़ोसियों के साथ घर में घुसी, तो हैरान ह गई।

ये है मामला
ये मामला भिंड शहर के सब्जी मंडी इलाका का है। दरअसल, सब्जी मंडी इलाके के निवासी श्याम सुंदर सोनी अपने जवान बेटे वीरेन्द्र सोनी के साथ रहते थे। 60 साल के श्याम सुंदर सोनी शराब पीने के आदि थे। अपने 27 वर्षीय बेटे वीरेन्द्र के साथ रोज शराब भी पिया करते थे। श्याम सुंदर की पत्नी का निधन पहले ही हो गया है और बड़ा बेटा भोपाल मे रहकर नौकरी करता है। लिहाजा भिंड में श्याम सुंदर और उनका छोटा बेटा वीरेन्द्र ही रहता था।
बाप-बेटे के अलावा उनके घर में कोई दूसरा शख्स नहीं था। बीते 2 दिन से श्याम सुंदर के घर के दरवाजे बंद थे। 2 दिन तक कोई भी घर के बाहर नहीं निकला। जब पड़ोसियों ने देखा कि घर के दरवाजे 2 दिन से खुले नहीं है तो किसी अनहोनी की आशंका के चलते पड़ोसियों ने इस बात की सूचना सिटी कोतवाली पुलिस को दी।
खबर मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और पुलिस ने घर के अंदर प्रवेश किया। अंदर का नजारा देखर पुलिस हैरान रह गई। घर के अंदर श्याम सुंदर सोनी की पलंग पर लाश पड़ी हुई थी और उनका बेटा वीरेन्द्र सोनी पलंग के नीचे जमीन पर सोया हुआ था। लाश में से बदबू आ रही थी। साथ ही लाश में कीड़े भी लगे हुए थे। इस बात से अंदाजा लगाया गया कि श्याम सुंदर की लाश पुरानी है।
वहीं, पुलिस ने जब वीरेन्द्र को जगाने का प्रयास किया तो शराब के नशे की वजह से उसकी आंख नहीं खुली। इसके बाद वीरेन्द्र को जिला अस्पताल मे भर्ती कराया गया और श्याम सुंदर की लाश को उठवाकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया। श्याम सुंदर की मौत की खबर पाकर श्याम सुंदर के भाई तुरंत उनके घर पर पहुंच गए।
श्याम सुंदर के भाई ने बताया कि श्याम सुंदर और उनका बेटा वीरेन्द्र बहुत ज्यादा शराब पिया करते थे। दोनों सुबह से लेकर रात तक शराब पिया करते थे। संभवत: शराब पीने की वजह से ही उनकी जान गई है।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126