पुजारी को पीटकर दबंगो ने मन्दिर से लूटे दस हजार

उरई: जालौन कोतवाली के अंतर्गत ग्राम खेड़ा पहाड़पुरा में स्थित प्रसिद्ध कामाक्षी देवी मंदिर को बीती देर रात सशस्त्र दबंगों ने मंदिर की दीवार तोड़कर मंदिर में घूस गए और गहरी नींद सो रहे पुजारी जयकरन पुत्र बच्चन लाल को हथियारों के बल पर बंधक बना लिया। तथा पीटा फिर तमंचा अड़ाकर मंदिर की गुल्लक में रखे लगभग 10000 की नकदी लूटकर धमकी देते हुए फरार हो गए।
पुजारी जयकरन ने लूटेरों में कुछ को पहचान लिया था। उसने कोतवाली जालौन में प्रार्थना पत्र देते हुए बताया कि लुटेरे गांव के ही दबंग ब्रजेश पुत्र रामेश्वर, ओमकार पुत्र छोटू, लालजी पुत्र छोटू, माधव पुत्र भूरे, महेंद्र पुत्र महादेव, भाईजी पाल पुत्र भइयालाल, मानवेन्द्र उर्फ मीनू पुत्र देवी दयाल, परशुराम पुत्र दसई अत्यंत ही शातिर किस्म के दबंग है। इन सबको मैं पहचानता हूँ। इस घटना के दौरान मेरे दो साथी जो मंदिर में सो रहे थे। शोर सुनकर आये तो उन्हें भी बदमाशों ने हथियार दिखाकर डरा दिया। वो भी कुछ बदमाशों को सामने आने पर पहचान सकते हैं। आपसे अनुरोध है कि मुकदमा दर्ज कर कड़ी कानूनी कार्यवाही करें।
उल्लेखनीय है कि उक्त देवी मंदिर का जीर्णोद्धार देश की ख्याति प्राप्त हरबल दवा निर्माता कम्पनी सन इंडिया फार्मेसी द्वारा कराया गया था। तथा मंदिर में निरंतर कम्पनी द्वारा दान आदि दिया जाता है। एवम खास अवसरों पर धार्मिक आयोजन भी कराए जाते हैं। जिसकी वजह यह है कि सन इंडिया फार्मेसी के स्वामी डॉ. एस. आर निरंजन इसी ग्राम के मूल निवासी हैं।