प्रदेश में बढ़ीं बड़ी घटनाओं के चलते मुख्यमंत्री ने कराई नई व्यवस्था लागू

अपराधियों पर गाज गिराने के मूड में योगी

अपराधियों पर गाज गिराने के मूड में योगी

उत्तरप्रदेश सरकार ने कानून व्यवस्था को और सुदृढ़ बनाने के लिए सभी 75 जनपदों में सीनियर आईपीएस अधिकारियों को नोडल अधिकारी बनाया गया
माफिया और अपराधियों पे नकेल कसने के लिए वरिष्ठ अधिकारी भी करेंगे फील्ड में तैनात पुलिस अधिकारियों का सहयोग
15 साल पहले तक सक्रीय रहे अपराधियों की बनाई जा रही है सूची
जिनपर ज़्यादा आपराधिक मुकदमे हैं वे जाएंगे सींखचों के पीछे

लखनऊ: गृह विभाग द्वारा यंग भारत को दी गयी जानकारी के अनुसार प्रदेश के सभी 75 जनपदों में सीनियर और बड़े पदों पर आसीन अनुभवी आईपीएस अधिकारियों को जनपदवार नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।

नोडल अधिकारी जिले के पुलिस अधीक्षकों, रेंज एवम जोन के डीआईजी तथा आईजी को अपराध नियंत्रण एवं कानून व्यवस्था को मजबूत बनाने हेतु अपने अनुभव के आधार पर मार्गदर्शन देंगे। नोडल अधिकारी नियुक्त किए जाने के क्रम में बुंदेलखंड के सातों जनपदों में जिन वरिष्ठ अधिकारियों को नोडल अधिकारी बनाया गया है उनका विवरण इस प्रकार है-
1. झाँसी- डॉ. संजय एम. तरडे, अपर पुलिस महानिदेशक
2. जालौन- सुभाष सिंह बघेल, पुलिस महा निरीक्षक
3. ललितपुर- असित कुमार पण्डा, पुलिस महानिदेशक
4. बाँदा- दीपक कुमार, पुलिस उप महानिरीक्षक
5. महोबा- धर्मवीर, पुलिस महानिरीक्षक
6. चित्रकूट- विश्वजीत महापात्रा, पुलिस महानिदेशक
7. हमीरपुर- दीपक रतन, पुलिस महानिरीक्षक
याद होगा कि पिछले दिनों कानपुर के बिकरु गांव में हुआ पुलिस हत्याकांड के साथ-साथ कानपुर में ही 30 लाख की फिरौती लेकर फरार हुए अपहरणकर्ता जबकि उन्होंने अपह्रत युवक को भी नहीं छोड़ा। यही नहीं मेरठ के मोस्टवांटेड बदन सिंह बद्दो की गिरफ्तारी के मामले सहित अन्य आपराधिक मामलों में भी पुलिस पर लग रहे लगातार आरोपों के मद्देनजर सरकार की बिगड़ती छवि और जनता के बीच गिरती साख से चिंतित मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा जिलों, रेंजों और जोनों की कमान संभाल रहे अधिकारियों को ‘सीनियर एडवाइस’ दिलवाने की नई रणनीति बनाई है। ताकि प्रदेश के पूर्वांचल, पश्चिम क्षेत्र तथा सेंट्रल यूपी ने माफिया और अन्य खूंखार अपराधियों द्वारा बड़ी घटनाएं घटित करके जनपदों की पुलिस का मनोबल डाउन करने का जो प्रयास किया जा रहा है। जिससे समाज मे भी भय का वातावरण बना हुआ है। इस स्थिति से प्रदेश को उबारने एवम निरंकुश हो रहे अपराधियों को पुलिस के दबाव में रखने की योजना के साथ अब मुख्यमंत्री ने इस नई रणनीति पर अमल करना प्रारंभ कर दिया है।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126