बिना नोटिस चैंबर तोड़े जाने से नाराज वकीलों ने सदर तहसील पर जड़ा ताला, बाहर नारेबाजी कर किया प्रदर्शन

लखनऊ: के सदर तहसील में मंगलवार को वकीलों का गुस्सा तहसील प्रशासन के खिलाफ अचानक फूट पड़ा। एसडीएम के खिलाफ नारेबाजी करते हुए तहसील के गेट पर ताला जड़ दिया और बाहर दरी बिछाकर धरने पर बैठ गए। वकीलों का आरोप है कि एसडीएम ने बिना नोटिस दिए उनके चैंबर तोड़ दिया। जिसका मुआवजा सरकार को देना चाहिए। वकीलों ने एसडीएम सदर पर जबरन कार्रवाई करने का भी आरोप लगाया है।
लखनऊ बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों का कहना है कि बीते कई सालों से लखनऊ के सदर तहसील में वकीलों का चैम्बर हैं। दो दिन पहले जिला प्रशासन की टीम ने बिना नोटिस दिए तोड़ दिया। एक दर्जन से ज्यादा चैंबर सोमवार को तोड़ा गया। यदि तोड़ना ही था तो एसडीएम सदर को पहले नोटिस देना चाहिए था। इस कार्रवाई से वकीलों में आक्रोश है। वकीलों का काफी नुकसान हुआ है।
जिला प्रशासन से वार्ता के बाद माने वकील
आक्रोशित वकीलों ने मंगलवार सुबह प्रदर्शन करते हुए दोबारा चेंबर निर्माण कराए जाने और हुए नुकसान के मुआवजे की मांग को लेकर सदर तहसील के गेट पर ताला जड़ दिया। इसके बाद करीब 2 घंटे तक प्रदर्शन किया। सूचना पाकर पहुंचे प्रशासनिक अधिकारियों ने समझाने की कोशिश की। जिला प्रशासन की वार्ता के बाद वकीलों को आश्वासन दिया है।
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126