भतीजे की हत्या करने वाला चाचा अपने दो बेटों के साथ गिरफ्तार

इटावा: जिले के सैफई थाना क्षेत्र के ललखोर गांव में जमीन के विवाद में अपने भतीजे की दिनदहाड़े हत्या करने वाले चाचा को दो आरोपी बेटों के साथ गिरफ्तार कर लिया गया. एसएसपी आकाश तोमर ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि दो दिन पूर्व जमीन के विवाद को लेकर युवक की हत्या के मामले में लरखौर मोढ़ से तीन हत्यारोपियों को गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार आरोपियों के पास से 315 बोर के दो तमंचे, सात जिंदा कारतूस तथा दो खोखा बरामद हुआ है. आरोपियों ने अपने भाई को जमीन के बंटबारे को लेकर इटावा के अशोकनगर से बुलाया था, उसके बाद गोली मारकर उसकी हत्या कर दी थी. इस मामले में 6 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है.
भागने की फिराक में थे तीनों
थाना प्रभारी सतीश चंद्र यादव ने बताया कि अरविंद उर्फ आशू की हत्या में नामजद 6 आरोपियों में से तीन उमाकांत दुबे पुत्र रमेशंचद्र दुबे तथा उसके दो बेटों अनुराग दुबे और अक्षय दुबे को गिरफ्तार कर लिया गया है. अरविन्द उर्फ आशू पर फायरिंग के दौरान दो अन्य लोग भी गोलियों का शिकार हुए थे. थाना प्रभारी ने बताया कि पकड़े गये आरोपी थाना इलाके में ही छिपे हुए थे और पुलिस की लगातार कोशिशों के बाद भी भागने का प्रयास कर रहे थे. आरोपियों को मेडिकल जांच के बाद जेल भेज दिया गया है.
जमीन के बंटवारे को लेकर चल रहा था विवाद
इटावा के सैफई थाना क्षेत्र स्थित ललखोर गांव में रमेश चंद्र दुबे का पारिवार रहता है, जिनका करीब दो-ढाई महीने पहले निधन हो गया था. उनके दो बेटे उमाकांत और रमाकांत हैं. जिनमें जमीन के बंटवारे को लेकर आपस में विवाद चल रहा था. 30 अक्टूबर को रमांकात दुबे की पत्नी मिथलेश कुमारी अपने बेटे अरविंद उर्फ आशू (30 वर्ष) और अतुल के साथ कार से गांव में आईं, जहां उनका उमाकांत और उनके बेटों से विवाद हो गया. विवाद इतना बढ़ गया कि गोलियां चलने लगी, जिसमें तीनों गंभीर रूप से घायल हो गए. सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में इलाज के लिए पहुंचने के वक्त अरविंद उर्फ आशू की मौत हो गई, जबकि मिथलेश और अतुल का इलाज चल रहा है.
रमाकांत दुबे का परिवार इटावा शहर के गांधीनगर में रहता है. गांव में खेती होने के कारण आना जाना लगा रहता है. हत्या के शिकार हुए अरविंद की शादी 10 साल पहले हुई थी. उसका 6 साल का एक बेटा भी है. जबकि घायल अतुल दुबे का जसंवतनगर में कृष्णा ऑटो हीरो की मोटर साइकिल एजेंसी है.
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126