भव्य राम मंदिर का निर्माण इसी वर्ष से होगा शुरू, 2025 तक बन जाएगा विशाल राम मंदिर- भैय्या जी जोशी

कारसेवकों का सपना होगा साकार
सैकड़ों वर्षों में राम मंदिर के लिए लाखों हिन्दू और सिखों ने दिया बलिदान
अनिल शर्मा+संजय श्रीवास्तव+डॉ. राकेश द्विवेदी
अयोध्या: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ(RSS) के शीर्ष अधिकारियों में से एक सरकार्यवाह भैय्या जी जोशी ने कहा कि राम मंदिर के निर्माण का कार्य इसी वर्ष 2020 से शुरू हो जाएगा। जबकि वर्ष 2025 तक विशाल राम मंदिर बनकर तैयार हो जायेगा।
श्री जोशी कल अचानक लखनऊ से अयोध्या पहुंचे वहां से वो राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास, ट्रस्ट के सदस्य वासुदेवा नंद सरस्वती से मिलने मणिदास छावनी गए। महंत नृत्य गोपाल दास को श्री जोशी ने गुलाबों की माला पहनाकर 82वें जन्मदिन की बधाई दी और दीर्घ जीवन की कामना की तथा उन्हें स्मृति चिन्ह भी दिया। इसके बाद सभी लोगों के साथ रामलला के दर्शन करने गए। जहां उन्होंने पूजन और आरती करी। इसके बाद वे कारसेवक पुरम गए। जहां उन्होंने भव्य राम मंदिर के निर्माण के लिए वर्षों से पत्थरों की गढ़ायी का जो काम हो रहा है। वहां कार्य की प्रगति को देखा। इस दौरान उनके साथ महंत नृत्य गोपाल दास, जगत गुरु शंकराचार्य वासुदेवा नंद सरस्वती, मणिराम छावनी के उत्तराधिकारी महंत कमल नयन दास, विहिप(VHP) के केंद्रीय पदाधिकारी पुरुषोत्तम नारायण सिंह, राजेन्द्र सिंह पंकज, अशोक तिवारी, सुरेंद्र सिंह, रामजन्म भूमि ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय, ट्रस्टी डॉक्टर अनिल मिश्रा, संघ के क्षेत्र प्रचारक अनिल जी, अवध प्रान्त के प्रान्त प्रचारक कौशल जी, प्रान्त सह प्रचारक मनोज जी, विभाग प्रचारक संजय जी, विहिप और राम मंदिर न्यास के मीडिया प्रभारी शरद शर्मा के साथ कारसेवक पुरम में उन्होंने गोपिनीय बैठक की। उन्होंने इसी वर्ष 2020 से ही भव्य राम मंदिर के निर्माण कार्य शुरू किए जाने की बात कही। उन्होंने कहा भव्य राम मंदिर को राम मंदिर ट्रस्ट बनाएगा। उन्होंने कहा कि राम मंदिर दिव्य, भव्य और मजबूत बनेगा। उन्होंने कहा भगवान राम का विशाल मंदिर वर्ष 2025 तक बनकर तैयार हो जायेगा। श्री जोशी ने कहा कि भगवान राम मंदिर के लिए सैकड़ों वर्षों से हिन्दू और सिखों ने बलिदान दिए हैं। लाखों हिन्दुओं ने कारसेवा की है। करोडों हिन्दुओं की आस्था का सवाल है। उन्होंने कहा कि कारसेवकों का सपना अब साकार होगा।
अगर संघ सूत्रों की मानें तो भव्य राम मंदिर का भूमि पूजन तथा पिलर बनाने का कार्य इसी वर्ष शुरू हो जाएगा। यह भी चर्चा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास तथा राम मंदिर ट्रस्ट के सभी सदस्यों और संतों के साथ भव्य राम मंदिर के भूमि पूजन के कार्यक्रम में संतों के साथ श्री मोदी और श्री योगी के रहने की भी संभावना है। इसके माध्यम से भाजपा सभी विरोधी दलों को यह संदेश भी देगी कि अभीतक वे जो यह नारा लगाते थे कि भाजपाई कहते हैं कि रामलला हम आएंगे, मंदिर वहीं बनाएंगे यह कहकर विरोधी दल जो खिल्ली उड़ाते थे। अब भाजपाई छाती ठोककर कह सकेंगे कि रामलला हम आएंगे, मंदिर भव्य बनाएंगे, तारीख भी सभी को बताएंगे। उधर संघ के सरकार्यवाह भैय्या जी जोशी ने यह कहकर सभी अटकलों को विराम लगा दिया कि वर्ष 2025 तक अयोध्या में भव्य राम मंदिर बन जाएगा। जिसे राम मंदिर ट्रस्ट ही बनाएगा। इसके बाद वे आज अपरान्ह 03 बजे अयोध्या से लखनऊ, लखनऊ से नागपुर के लिए रवाना हो गए। उधर राजनीतिक हलकों में इस चर्चा ने जोर पकड़ लिया कि उत्तरप्रदेश के वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में और 2024 के लोकसभा चुनाव तक राम मंदिर, जम्मू कश्मीर से धारा 370 तथा 35A हटाने के मुद्दे भाजपा मतदाताओं के पास पूरी ताकत और प्रखरता से ले जाएगी।
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126