मधुमक्खियों के झुंड ने किया हमला, एक कि मौत दो घायल

ललितपुर:

उत्तर प्रदेश के ललितपुर जिले के महरौनी कोतवाली के कुरौरा गांव में मधुमक्खियों के काटने के चलते बुधवार को एक किसान की मौत हो गई जबकि दो अन्य की हालत गम्भीर बनी हुई है। बताया जा रहा है कि मधुमक्खियों से बचने के लिए तीनों एक किलोमीटर तक दौड़े लेकिन वह उनके हमले से बच नहीं सके। इधर पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर आगे की कार्रवाई के लिए भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार, कोतवाली महरौनी के ग्राम कुरौरा निवासी 35 वर्षीय गजवेंद्र सिंह अपने 55 वर्षीय पिता शेर सिंह व 15 वर्षीय पुत्र राजा साहब के साथ बुधवार को खेत पर गया हुआ था। जब वह खेत पर लगे एक पेड़ के निकट छंटाई का काम कर रहे थे, तभी पेड़ पर बैठी मधुमक्खी के झुण्ड ने उन पर हमला बोल दिया। किसी प्रकार तीनों पिता-पुत्र वहां से बचने के लिए खेत से एक किलोमीटर दूर गांव तक दौड़े लेकिन मधुमक्खी के हमले से वह नहीं बच सके। मधुमक्खी के काट लेने से तीनों की हालत बिगड़ गई। जिसके बाद उपचार के लिए उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

झांसी मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान हुई मौत

गजवेन्द्र की हालत गम्भीर होने पर चिकित्सकों ने उन्हें झांसी मेडिकल कालेज भेज दिया। जहां उपचार के दौरान झांसी में गजवेंद्र की मौत हो गई। परिजन शव को ललितपुर जिला अस्पताल लाए। जिला अस्पताल के ईएमओ की सूचना पर कोतवाली पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

मृतक के भाई दुग्गी राजा ने बताया कि मधुमक्खियों ने पिता-पुत्र सहित तीनों को बुरी तरह से काट लिया था और बुधवार देर शाम गजवेंद्र की मौत हो गई। उन्होंने बताया कि मधुमक्खियों के हमले से बचने के लिए तीनों ने खेत से एक किलोमीटर दूर तक दौड़ लगाई थी। मधुमक्खियों ने नहीं छोड़ा था। इधर शहर कोतवाल संजय कुमार शुक्ला ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126