बालिकाओं के ऊपर टूटे पड़ रहे हैं बेखौफ कामुक दरिंदे

मनचलों से भिड़ी नाबालिग, जहर पीकर थाने पहुंची शोहदों से परेशान पीड़िता

शोहदों से परेशान दलित नाबालिग ने परेशान होकर घर में रखा जहर पी लिया। हालत बिगड़ने पर उसकी मां सीधे थाने ले गई। आनन फानन में पुलिस बिलसंडा सीएचसी लेकर पहुंची। हालत में सुधार न होने पर जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। गांव के ही तीन युवकों पर संगीन आरोप लगाए हैं। थाना क्षेत्र के गांव के युवक की काफी समय पहले मौत हो चुकी है। पत्नी और तीन बेटियां पशुपालन व खेतों में कामकाज कर अपनी गृहस्थी चलाती थीं। मंगलवार सुबह मां खेत में काम करने गई थी।

पीछे से 16 साल की नाबालिग बेटी भी साईिकल से पशुओं के लिए चारा लेने खेत पर जा रही थी। आरोप है कि रास्ते में गांव के ही तीन युवकों ने उसपर फब्तियां कसते हुए गन्ने के खेत में खींच लिया। किशोरी संघर्ष करते हुए हाथ में रस्सी से ही मनचलों से भिड़ गई। शोरशराबे पर मां भी मौके पर पहुंच गई। मनचलें भाग गए। घटना से आहत किशोरी ने घर में रखा कीटनाशक पी लिया। जिससे उसकी हालत बिगड़ गई। जिसके बाद मां उसे लेकर थाने पहुंची। इंस्पेक्टर फरियाद सुन रहे थे। किशोरी की हालत देख उन्होंने तुरंत उसे बिलसंडा सीएचसी भेजा। पीछे से खुद भी पहुंच गए। अस्पताल में डाक्टर काफी देरतक उसका उपचार करते रहे, हालत सही न होने पर रेफर कर दिया।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126