मिर्जापुर में गंदगी देख सचिव सहित दो कर्मचारी निलंबित

मिर्जापुर में गंदगी देख सचिव सहित दो कर्मचारी निलंबित
उरई (जालौन)। नोडल अधिकारी धीरज साहू ने जिलाधिकारी डॉ. मन्नान अख्तर के साथ सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र माधौगढ़ का निरीक्षण करते हुए अस्पताल की हकीकत को परखा। तो वहीं ग्राम पंचायत मिर्जापुर के निरीक्षण में गांव में चहुंओर गंदगी देख उनका पारा चढ़ गया तो उन्होंने पंचायत सचिव सहित दो कर्मचारियों को निलंबित करने का फरमान सुना दिया।

उन्होंने स्वास्थ कर्मियों की लापरवाही समझने पर उनकी डांट फटकार लगायी साथ ही उन्होंने मैडिसन रूम, दवा वितरण रूम, आयुष्मान भारत व अन्य को बारीकी से निरीक्षण किया व स्वास्थ्य केन्द्र के डॉ. विनोद राजपूत को निर्देश देते हुए कहा कि जो अस्पताल में खामियां हैं उन्हें नोट कर बताये ताकि उन्हें दुरुस्त कराया जा सके। इस कोरोना संक्रमण की वैश्विक महामारी को देखते मरीजों की संख्या में इजाफा होता रहा तो वहीं नगर माधौगढ़ में एक भी कोरोना पॉजिटिव नहीं पाया गया जाँच के तौर पर अस्पताल में मरीजों की नियमित जाँच करायी गयी। हालांकि नोडल अधिकारी धीरज साहू निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य केन्द्र की व्यवस्थाओं को देखते हुए संतुष्ट नजर आये इसके अलावा उन्होंने ग्राम मिर्जापुर की साफ-सफाई एवं ग्राम की अन्य व्यवस्थाओं को देखर असंतुष्ट नजर आये व सचिव व अन्य दो कर्मचारियों को डांट फटकार लगाते हुए निलंबित कर दिया। इस दौरान चिकित्साधिकारी अल्पना बरतारिया, जिलाधिकारी डॉ. मन्नान अख्तर, सीडीओ, कोतवाल सुनील कुमार, डॉ. विनोद राजपूत अन्य कर्मचारी मौजूद रहे।