मुस्लिम परिवार ने लक्ष्मी-गणेश पूजन कर पेश की सांप्रदायिक सौहार्द की मिसाल

अलीगढ़: जहां एक ओर हिंदू-मुस्लिम पर राजनीति की जाती है, वहीं अलीगढ़ में मुस्लिम परिवार ने दिवाली पर लक्ष्मी-गणेश का पूजन कर सांप्रदायिक सौहार्द की मिशाल पेश की है. अलीगढ़ में मुस्लिम महिलाओं ने दिवाली पर्व मनाकर समाज को एकजुट रहने का संदेश दिया है. इन महिलाओं का मानना है कि त्योहारों से भाईचारा बढ़ता है.
थाना देहली गेट इलाके की एडीए कॉलोनी निवासी रूबी आसिफ़ खान ने दिवाली के दिन अपने घर पर लक्ष्मी गणेश- पूजन का आयोजन किया और दीपक जलाकर घर को रोशन भी किया. लक्ष्मी-गणेश पूजन में रुबी के परिवार के साथ अन्य मुस्लिम महिलाएं भी शामिल हुईं. महिलाओं ने लक्ष्मी और गणेश की आरती के बाद विधिविधान से दिवाली मनाई. रुबी खान ने 21 दीये जलाकर अपने घर को रोशन किया.
21 दीपक जलाकर किया घर रोशन
रूबी आसिफ खान ने बताया कि वह 21 वर्षों से दिवाली के मौके पर लक्ष्मी-गणेश का पूजन करती आ रही हैं. पहले साल एक दीया जलाया, दूसरे साल दो और अब 21वें वर्ष में 21 दिये जलाकर दिवाली सेलिब्रेट कर रही हूं. रूबी खान ने बताया कि हिंदू और मुस्लिम में एकता बनी रहे, इसलिए वह दिवाली का त्यौहार हर साल मनाती हैं. आपको बता दें रूबी आसिफ़ खान बीजेपी महिला मोर्चा में मंडल मंत्री है. रूबी पिछले कई सालों से हिंदू रीति-रिवाज के अनुसार त्योहारों को मनाती आ रही हैं.
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126