राष्ट्रीय छात्र संगठन के पदाधिकारियों ने राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन प्रशासन को सौपा

सरकारी एवं गैर सरकारी शिक्षण संस्थाओं द्वारा फीस करने की उठाई मांग

उरई (जालौन)। भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के पदाधिकारियों ने कलेक्ट्रेट पहुंच कर राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन प्रशासन को सौपा। जिसमें विगत पांच माह से सरकारी एवं गैर सरकारी शिक्षण संस्थाओं द्वारा फीस माफ करने की मांग उठाई है।
भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के जिलाध्यक्ष सिद्धार्थ पाण्डेय के नेतृत्व में अभिषेक पाठक जिला महासचिव, संजीव सहित आदि छात्रों ने राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन प्रशासन को भेंट किया। जिसमें बताया गया है कि कोविड-19 महामारी के चलते पूरे देश में 25 मार्च से लाँकडाउन किया गया था जिसमें सभी सरकारी और गैर सरकारी स्कूल बंद कर दिये गये थे जिसकी बजह से शिक्षण कार्य भी बंद हो गया था परंतु इस लाँक डाउन की अवधि का भी शिक्षण संस्थाओं द्वारा फीस की वसूली की जा रही है तथा तरह-तरह से छात्रों एवं अभिभावकों पर मानसिक दबाव डाला जा रहा है। इस आर्थिक तंगी के हालातों में उसे अपनी रोजी रोटी चलाना मुश्किल पड़ रहा है और उस पर शिक्षण संस्थाओं द्वारा शुल्क जमा कराने हेतु दबाव डालने के कारण विद्यार्थी एवं अभिभावक विकट मानसिक एवं आर्थिक दबाव में है। छात्रों ने ज्ञापन भेजकर राज्यपाल से फीस वसूली पर रोक लगाये जाने की मांग की है।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126