लखनऊ के ट्रिपल मर्डर केस में नया खुलासा मृतक चौकीदार सरकारी दस्तावेजों में पहले से ही था मृत

लखनऊ: राजधानी में हुए ट्रिपल मर्डर केस ने नया मोड़ ले लिया है. ट्रिपल मर्डर केस में मृतक चौकीदार सत्रोहन पासी सरकारी दस्तावेजों में कई साल पहले ही मर चुका था. फिलहाल पुलिस और राजस्व की टीमें जांच में जुटी हुई है.।

गुरुवार को ट्रिपल मर्डर की खबर सामने आते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया, पुलिस के तमाम आला अधिकारियों ने राजधानी लखनऊ के ग्रामीण क्षेत्र निगोहा में अपना डेरा डाल लिया. बताते चलें कि निगोहा थाने से मात्र तीन सौ मीटर की दूरी पर एक घर के अंदर बुजुर्ग दंपति की लाश मिली थी और उसी घर से सौ मीटर की दूरी पर निगोहा के उदयपुर के रहने वाले सत्रोहन नाम के निजी चौकीदार की भी लाश बरामद हुई थी. जहां एक तरफ ट्रिपल मर्डर केस में पुलिस की कई टीमें जांच में जुटी हुई हैं. वहीं इस केस ने एक नया मोड़ ले लिया है. मृतक चौकीदार सत्रोहन पासी सरकारी दस्तावेजों में कई साल पहले ही मर चुका है. जांच के दौरान पुलिस को यह पता लगा कि जो जमीन सत्रोहन पासी के नाम पर थी, वह अब उसके नाम पर नहीं है, ।

क्योंकि राजस्व विभाग के सरकारी दस्तावेजों में वह मृत है , मामले का खुलासा होते ही राजस्व विभाग के अधिकारियों की नींद भी उड़ गई है. राजस्व विभाग के अधिकारी व पुलिस की टीमें जांच में जुटी हुई हैं कि यह मानवीय त्रुटि है या फिर कोई सोची-समझी साजिश. बहरहाल पुलिस मृतक बुजुर्ग दंपति और मृतक चौकीदार के घरवालों औऱ रिश्तेदारों से पूछताछ कर रही है, लेकिन चार दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ कोई कामयाबी नहीं लगी है.

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126