वकील को डकैती की धाराओं में जेल भेजने से गुस्से में है – बारसंघ

उरई(जालौन): जालौन के कोंच में रविवार की रात कैलिया में हुए खूनी संघर्ष में जिन उन्नीस लोगों को पुलिस ने जेल भेजा है उसमें एक वकील रामवीरसिंह गुर्जर पुत्र महेन्द्रसिंह भी शामिल हैं। वकील को डकैती जैसी धाराओं में जेल भेजे जानेे को लेकर वकील विरादरी खासी गुस्से मेें है। मंगलवार को बारसंघ की आकस्मिक बैठक बुला कर एक निंदा प्रस्ताव पारित किया गया गया और एसपी जालौन को बारसंघ की ओर से पत्र लिखा गया जिसमें कहा गया है कि रामवीर गुर्जर कोंच बार के सम्मानित सदस्य हैं और कैलिया में कबड्डी को लेकर हुए विवाद में थाना कैलिया पुलिस ने अन्य आरोपियों के साथ अधिवक्ता का भी आईपीसी की घारा 395 जो डकैती की है, में चालान कर दिया जिससे कोंच बार के अधिवक्ता खासे आहत हैं। उन्होंने एसपी से मामले की निष्पक्ष जांच करा कर अधिवक्ता को न्याय दिलाने की मांग की है। पत्र पर बारसंघ अध्यक्ष नवलकिशोर जाटव, महामंत्री रामलखन कुशवाहा, रामकुमार खरे, नरसिंह गहरवार, प्रमोद गुप्ता, संतोष खरे, राघवेन्द्र आनंद विदुआ आदि के हस्ताक्षर हैं।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126