वर्षाऋतु में गौवंशीय पशुओं का विशेष ध्यान रखें-डा. अनिल शर्मा

उरई (जालौन)। गौवंश संरक्षण, संवरधन व गौशालाओं, गौ आश्रय स्थलों पर संचालित ब्यवस्थाओं की समीक्षा करने हेतु उत्तर प्रदेश शासन द्वारा डा. अनिल कुमार शर्मा संयुक्त निदेशक पशुपालन विभाग लखनऊ को जनपद जालौन का नोडल अधिकारी नामित किया गया है।डा. अनिल कुमार शर्मा ने जनपद आकर विभागीय अधिकारियों, प्रशासनिक अधिकारियों के साथ मिलकर गौवंशीय संस्थाओं (अस्थाई गौवंश आश्रय स्थल, स्थाई गौवंश आश्रय स्थल, वन्य विहार, पंजीकृत गौशालाओं आदि पर समीक्षा व सुझाव कार्यक्रम आरम्भ किया तथा राजकीय पशुचिकित्सालय कुठौंद, अस्थाई गौ आश्रय स्थल बावली, कुरौली, निजी क्षेत्र की पंजीकृत गौशाला, श्री गोपाल गौशाला भोजापुर, राजकीय पशु चिकित्सालय जालौन, नगर पालिका परिषद जालौन द्वारा संचालित अस्थाई गौवंश आश्रय स्थल जालौन का भ्रमण किया तथा गौसेवकों, गौपालकों को वर्षा ऋतु से गौवंश हेतु विशेष सावधानी, रोग नियंत्रण व बचाव पर विस्तार से जानकारियां दी और वर्तमान मौसम में संचालित रोग नियंत्रण टीकाकरण अभियान (गला घोटू निवारण टीका) का लाभ उठाने की अपील की। उन्होंने ने गौवंश के गोबर व गौमूत्र से बनाने वाली उपयोगी जैबिक खाद बनाने की भी अपील की। उन्होंने गौवंश आश्रम स्थलों पर सफाई व स्वच्छता बनाये रखने के लिए भी कहा।भ्रमण कार्यक्रम के दौरान प्रमुख रूप से डा. संतोष राजपाल पशु चिकित्साधिकारी, डा. आर. एस. राजपूत उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी मौजूद रहे।नोडल अधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. वी. वी. सिंह, डा. सुरेंद्र सिंह उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, डा. बृजेश सचान उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी के साथ विकास भवन उरई के सभागार में समीक्षा बैठक की।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126