विडंबना: वाहन पार्किग तो है पर खडे करने की जुर्रत कौन उठाये

खाली पड़ा वाहन पार्किंग स्थल

उरई(जालौन): अब इसे किसकी उदासीनता कहें कि सार्वजनिक स्थानों पर जहां वाहन पार्किग के लिये स्थान तो सुनिश्चित है पर वाहन जगह जगह बेतरतीब ढंग से खडे दिख जायेगे। और यह नजारा किसी आम स्थान का नही बल्कि जिलें के मुखिया जिलाधिकारी कार्यालय परिसर का है जहां आये दिन बडी संख्या में दो पहिया वाहनों का जमावडा लगा रहता है। और तो और कुछ लोग तो वाहनों के चोरी चले जाने के डर से उन्हें ऐसी जगह खडा कर देते है जहां से उन पर नजर रखी जा सके फिर चाहें वह दूसरों के लिये परेशानी का सबब क्यों न हो।
गौर तलब हो कि कलेक्ट्रेट परिसर में कुछ वर्ष पूर्व छोटे बडे वाहनों को खडा करने के लिये डीएम कार्यालय के ठीक सामने वाहन पार्किग की जगह निर्धारित कर दी गयी थी ताकि आने जाने वाले अपने वाहनों को उक्त स्थान पर खडा कर सके जिससे परिसर में वाहनों की अफरा तफरी से बचा जा सके शुरूआत में कुछ समय तक तो वाहन पार्किग में ही वाहन खडे किये जाते रहे लेकिन बाद में लोग इस व्यवस्था को भुला बैठे मौजूदा हालत यह है कि सैकडो की संख्या में दो पहियां वाहनों को समूचे कलैक्ट्रेट परिसर में बेतरतीब ढंग से जगह जगह खडा देखा जा सकता है।
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126