शंकरपुर पुलिस चौकी बनी अबैध बसूली का अड्डा

चौकी के सिपाही सब काम छोड़ कर ट्रकों की करते रहते है गिनती
उरई (जालौन)। शंकरपुर चौकी अबैध बसूली का बड़ा केंद्र बन चुका है ये चौकी जिले के बॉर्डर की चौकी है इसलिये बेरिगेटिग लगी रहती है कि कोई अबैध समान व गलत व्यक्ति जिले की सीमा में न आ सके लेकिन इस बेरिगेटिग का शंकरपुर चौकी की पुलिस जैसे सिपाही आशीष गलत फायदा उठाते है ये सभी गाडि़यो में ओवरलोड चेक करते है जिस मोरंग, गिट्टी की गाडी में जरा भी ओवर लोड हुआ तो इनको 1 हजार चाहिए ये एक 1हजार तो तब जब पहले से सम्पर्क करें नही इन्होंने पकड़ा तो 10 हजार भी ले लेते है पूरे दिन व रात मोटरसाईकिल पर ओरैया वाला पुल पर आशीष सिपाही व अन्य सिपाही जा कर बसूली करते है ताकि कोई अधिकारी आये भी तो वो ओरैया थोड़ी न जाएगा इसके अलाबा स्थानीय पत्रकार भी पुल तक कोई नही जाता जिससे ये न तो फोटो में आ पाते है और उच्चाधिकारी की कार्यवाही से भी बचे रहते है शंकरपुर चौकी इंजार्ज की इसमें पूरी सहभागिता रहती है। वाकायदा पूरा हिसाब दिया जाता है पुलिस की यह कार्यप्रणाली निश्चित ही पुलिस छवि खराब करती है ऐसे लोगो के ऊपर पुलिस अधीक्षक को जाँच करा कर कार्यवाही निश्चित रूप से करनी चाहिए ।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126