शहीद रवि सिंह की एक झलक पाने के लिए मिर्जापुर में उमड़ा जनसैलाब

मिर्जापुर: जिले के जिगना थाना क्षेत्र के गौरा गांव निवासी रवि सिंह जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हो गए. गुरुवार को शहीद रवि सिंह का पार्थिव शरीर उनके पैतृक घर लाया गया. घर पर परिजन और गांव के लोग शहीद के शव के आने का इंतजार करते दिखे. वहीं हर कोई इस दौरान शहीद रवि सिंह के जज्बे को सलाम कर रहा है.

शहीद की एक झलक पाने के लिए मिर्जापुर में जनसैलाब उमड़ पड़ा. चौराहों से लेकर सड़कों तक हजारों की संख्या में लोग तिरंगा लिए रवि सिंह का इंतजार कर रहे थे. लोगों ने इस दौरान रवि सिंह अमर रहें, पाकिस्तान मुर्दाबाद, जैसे नारे लगाए. गुरुवार को शहीद रवि सिंह का पार्थिव शरीर अंतिम संस्कार के लिए उनके पैतृक घर लाया गया था.

जम्मू-कश्मीर के बारामुला के पाटन सेक्टर में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में जनपद के एक वीर जवान ने भी अपने प्राणों की आहुति दे दी. जिले के सदर तहसील के जिगना थाना अंतर्गत गौरा गांव के रहने वाले रवि सिंह सेना में राष्ट्रीय राइफल के जवान में तैनात थे, जिनकी तैनाती इन दिनों जम्मू-कश्मीर में थी.

17 अगस्त को कश्मीर के बारामुला पाटन सेक्टर में हुए आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में रवि सिंह शहीद हो गए थे. शहीद रवि सिंह का पार्थिव शरीर वाराणसी के बाबतपुर हवाई अड्डे से सुबह जिले के लिये लाया गया. शहीद रवि सिंह के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार उनके पैतृक गांव में किया गया. जिले के लाल के सम्मान में तिरंगा लेकर लोग शहीद का इंतजार करते देखे गए.

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126