सफाईकर्मियों ने नगर पालिका अधिकारियों को बनाया बंधक

महोबा: नगर पालिका के डोर टू डोर कचरा कलेक्शन सफाईकर्मी 4 माह से वेतन न मिलने से आक्रोशित होकर नगर पालिका प्रशासन के खिलाफ धरने पर बैठ गए और नारेबाजी करने लगे. सफाईकर्मियों ने नगर पालिका परिसर में मौजूद सभी कर्मचारी अधिकारियों को पालिका के अन्दर ही बन्धक बना मुख्य गेट को जाम कर दिया.
नगर पालिका परिसर में नारेबाजी सुनकर वहां मौजूद एसडीएम सदर राजेश कुमार यादव ने सफाईकर्मियों के पास पहुंच समझाने का प्रयास किया, लेकिन सफाईकर्मियों ने जब तक वेतन नहीं, तब तक गेट से न हटने की बात कहकर उन्हें बैरंग वापस कर दिया.
सत्यापन की वजह से हुई देरी
पूरे मामले में एसडीएम सदर राजेश कुमार यादव ने वेतन में देरी की बात को स्वीकारते हुए कहा कि शिकायतों के चलते सफाईकर्मियों का सत्यापन कराया जा रहा था, जिसके चलते वेतन में देरी हुई है. सत्यापन का कार्य पूरा हो चुका है. आज इनका वेतन मिल जाएगा.

4 महीने से नहीं मिला वेतन
सुपरवाइजर नीरज ने बताया कि हम लोग नगर पालिका के गेट पर धरने पर बैठे हुए हैं. हम लोगों ने घर-घर जाकर लोगों का कचरा उठाया है, लेकिन चार महीने से हम लोगों को वेतन नहीं दिया गया है. बजट की बात कर वेतन नहीं दे रहे हैं. हम लोगों को जब तक चार महीने का वेतन नहीं मिलता तब तक हम यहीं बैठेंगे.

अपनी मांगों को लेकर ये लोग धरने पर बैठ गए हैं. वेतन को लेकर मांग थी. इन लोगों का सत्यापन कराया जा रहा था, जो कि कल रात में प्राप्त हुआ है. अब इनके ठेकेदार के खाते में आज पेमेंट पहुंच जाएगी. कर्मचारियों के खिलाफ शिकायतें आने के कारण इनकी जांच कराई जा रही थी, जिस वजह से वेतन में देरी हुई है. सभी कर्मचारियों का सत्यापन हो चुका है. सबको वेतन आज मिल जाएगा.
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126