शासन और प्रशासन के प्रतिबंध के बाद भी हो रही मछली की बिक्री

सोशल डिस्टेसिंग की भी खुलकर उड़ाई जा रही धज्जियां

उरई (जालौन): बारिश के मौसम में मछलियां प्रजनन काल में होती है।जिससे इनके शिकार और बिक्री पर कुछ माह के लिए शासन और प्रशासन द्वारा रोक लगा रखी जाती है। इस दौरान मछलियों को पकड़ने के ठेके भी प्रशासन नहीं देता है। इसके बावजूद शहर के कुछ मछली माफियां गुप-चुप तरीके से रात के समय मछलियों का शिकार कर लाते है जिनकी अच्छी और मजबूत पकड़ स्थानीय पुलिस और प्रशासन पर होती है। जिसके एवज में यह मछली माफियां लम्बा शुल्क भी अदा करते रहते है। बताते चले कि प्रतिबंध के बावजूद शहर के बजरियां क्षेत्र में कुछ जगहों पर मछली का शिकार करके लाने वाले मछली माफियां अपने घरों से ही अवैध रूप से मछली की बिक्री के साथ ही सोशल डिस्टेसिंग की खुलकर धज्जियां उड़ाते नजर आ रहे है। जिस क्षेत्र में मछली के ब्यापार का अवैध धंधा संचालित हो रहा है वह शहर की बजरियां स्थित बल्लभनगर पुलिस चौकी का मामला है।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126