सरकारी आवास न मिलने से आक्रोशित महिलाओं ने कलेक्ट्रेट में काटा हंगामा

सचिव, प्रधान और वीडियो पर लगाया भ्रष्टाचार का आरोप

उरई (जालौन)। जालौन विकास खण्ड क्षेत्र की ग्राम पंचायत शेखपुर बुजुर्ग निवासी महिलाओं में ऊषा देवी, सुनीता, गुडडी देवी, गुडडी देवी, जशोदा, जानकी, रुचि, कुंती देवी, सीमा देवी, पूनम देवी सहित आदि महिलाओं ने प्रधानमंत्री आवास ने मिलने से आक्रोशित महिलाओं ने कलेक्ट्रेट पहुंच कर सरकारी आवास दिलवाये जाने की मांग करते हुए जिलाधिकारी की गाड़ी को रोक कर खड़ी हो गयी यह देख सिटी मजिस्ट्रेट व अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे और महिलाओं की समस्याओं को हल करने का आश्वासन दिया तब कहीं जाकर महिलाओं ने रास्ता छोड़ा। महिलाओं का कहना था कि वह गरीब मजदूर एवं अनुसूचित जाति की है जिनके कच्चे मकान है जिन पर टीन टप्पर रखा हुआ है। महिलाओं का कहना है कि प्रधान व सचिव द्वारा जो आवासीय योजना की सूची बनाई गयी जिसमें अपात्र लोगों के नाम शामिल किये गये जबकि पात्र महिलाओं को सूची से अलग रखा गया है।महिलाओं का आरोप है कि आवास दिलवाये जाने के नाम पर प्रधान व सचिव की साठगांठ के चलते दस हजार रुपये की मांग की जा रही है। महिलाओं ने ज्ञापन के माध्यम से मांग की है कि आवास सूची की जांच ईमानदार अधिकारी से करवा कर कार्यवाही की तथा पात्रता की श्रेणी में आने वाले गरीब लोगों को सरकारी आवास दिलवाये जाने की मांग की है।
संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126