सार्वजनिक स्थानों पर कचरा जलाने वालो की अब खैर नही

जानकारी देते स्वच्छ भारत मिशन के जिला समन्वक

पकडे जाने पर भरना पड सकता है पांच हजार का जुर्माना

उरई(जालौन)। आम लोगो के लिये बने नियम और कायदे कानून व्यहारिक धरातल पर कारगर नही हो पाते है यही वजह है कि सरकारी योजनायें और कार्यक्रम चलते तो पूरे उत्साह के साथ है पर नतीजें जस के तस रहते है किन्तु अब विभागीय जिम्मेदारों ने स्पष्ट संकेत दिये है कि सार्वजनिक स्थानों पर कचरा जलाने वालों पर पांच हजार रूपये तक का जुर्माना लगाया जा सकता है।
इस बार नगर पालिका के सहयोग से चलाये जा रहे स्वच्छ भारत मिशन ने आम लोगो को जागरूक करने की दिशा में पहल करने की जरूरत पर बल देना शुरू कर दिया है विभागीय सूत्रों की माने तो पर्यावरण को क्षति पहुचाने और प्रदूषण को बढाने वाले लोगो के खिलाफ जुर्माना लगाये जाने का भी प्राविधान है यदि शिकायत मिलती है तो ऐसे लोगो के खिलाफ कार्यवाही करायी जायेगी स्वच्छ भारत मिशन के जिला समन्वयक संदीप सेंगर ने यंग भारत को मिशन के संबध में जानकारी देते हुये बताया कि निकट भविष्य में भारत सरकार की टीम जिलें सफाई ओर स्वच्छता के विभिन्न पहुलुओं की जांच कर सकती है जिसके क्रम में लोगो की जागरूकता बेहद जरूरी है उन्होने साफ कहा कि प्रदूषण से लोगो को सुरक्षित किये जाने के लिये उनकी जागरूकता और सहयोग की भी उतनी ही जरूरत है लोगो को मालूम होना चाहिये कि वह प्रदूषण बढाने वाले कारकों के प्रति गंभीर नही होते तो उन्हें इसका खमियाजा जुर्माना के तौर पर भुगतना पड सकता है उन्होने बताया कि सार्वजनिक स्थान पर कचरा जलाना प्रतिबंधित है ऐसा करने वाले वातावरण को प्रदूषित कर लोगो के जीवन के साथ खिलवाड करते है यदि ऐसे लोगो के विरूद कोई शिकायत मिलती है तो उन पर पांच हजार रूपये जुर्माना लग सकता है।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.
सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126