सीडीओ ने ग्राम पंचायत गोपालपुरा में हुए फर्जी कार्यों की शिकायत मिलनेपर जांच के दिए आदेष

ग्राम प्रधान ने दो अलग अलग नामों से राजस्थान के पाली जिले से दो अलग-अलग ड्राइविंग लाइसेंस बनवाए
ग्राम प्रधान ने इलाहाबाद बैंक गोपालपुरा में दो अलग-अलग नामों से बैंक के खाते खुलवाए
अनिल शर्मा़ +संजय श्रीवास्तव+श्रीकान्त शर्मा
उरई। रोहित कुमार पुत्र सुरेन्द्र सिंह ने आज सीडीओ प्रषान्त कुमार श्रीवास्तव को ग्राम पंचायत गोपालपुरा विकास खंड माधौगढ़ में प्रधान एवं सचिव द्वारा कराए गए फर्जी कार्याें की जांच कराने से सम्बन्धित प्रार्थना पत्र दिया। उन्होंने प्रमाण देते हुए बताया कि प्रधान शिव सिंह पुत्र मोहन लाल एवं सन्तोष पुत्र मोहन लाल दो अलग-अलग नामों से गोपालपुरा के इलाहाबाद बैंक में प्रधान शिव सिंह ने दो अलग-अलग खाते खुलवा रखे हैं।
इसी तरह प्रधान शिव सिंह ने जिला पाली राजस्थान में आरटीओ विभाग में शिव सिंह पुत्र राम सिंह, सन्तोष पुत्र मोहन लाल के नाम से अलग-अलग ड्राइविंग लाइसेंस बनवा लिए हैं। दोनो ही ड्राइविंग लाइसेंस में एक ही व्यक्ति शिव सिंह प्रधान गोपालपुरा की फोटो लगी हुई है।
शिकायतकर्ता रोहित कुमार ने आरोप लगाया है कि ग्राम प्रधान शिव सिंह पिता मोहन लाल ने ग्रामीण जनता से आवासों के नाम से बीस हजार रुपए प्रति व्यक्ति सुविधा शुल्क लिया है। इसी तरह शौचालय में भी प्रधान ने ग्रामीणों को मात्र 6 हजार रुपए दिया है, जिसकी वजह से लगभग एक दर्जन ग्रामीणों के शौचालयों का निर्माण नहीं हो पाया है। इसी तरह सीसी का निर्माण कमलेन्द्र सिंह एडवोकेट के घेरा से मेन रास्ते तक एक सौ तीस मीटर का कार्य जेसीबी के द्वारा कराया गया, जोकि मनरेगा द्वारा कराया जाना था। जिसमें 52416 रुपए का भुगतान निकाला गया है। इसी तरह मजरा कुर्तला में प्राइमरी पाठशाला में घटिया गुणवत्ता की टाइल्स लगाई जा रही है। इंटरलॉकिंग कार्य भी मानक विहीन हो रहा है। इसी प्रकार संतोष पुत्र मोहन लाल एवं शिव सिंह पुत्र मोहन लाल के नाम से इलाहाबाद बैंक गोपालपुरा में खाते हैं। जबकि वर्तमान में शिव सिंह पुत्र मोहन लाल ही यहां का प्रधान है। इसी तरह प्रधान गोपालपुरा ने उसके साथ हुए एक्सीडेंट में थाना माधौगढ़ में 19 अक्टूबर 2018 को मूल निवास नियर पावर हाउस पाली रोड, सौजत सिटी जिला पाली राजस्थान दिखाया है जबकि हाल निवासी गोपालपुरा दिखाया है, जबकि वर्तमान पते में प्रधान ने अपना नाम शिव सिंह की जगह सन्तोष पुत्र मोहन लाल ग्राम गोपालपुरा दिखाया है।
ग्राम प्रधान शिव सिंह पुत्र मोहन लाल के नाम से ग्राम प्रधान बना है। जबकि सन्तोष पुत्र मोहन लाल के नाम से तमाम बेनामी सम्पत्ति क्रमषः उरई में दो मकान, चार पहिया वाहन तथा पाली राजस्थान में तमाम बेनामी सम्पत्ति पिछले चार साल में बनाई है। जिला पाली राजस्थान के आरटीओ आफिस में ग्राम प्रधान ने दोनों नामों से ड्राइविंग लाइसेंस बनवाए हैं। इसलिए इन मामलों की जांच कर कार्यवाही करने की कृपा करें। सीडीओ प्रषान्त कुमार श्रीवास्तव ने इस मामले की जांच के आदेष दिए हैं।