सो रहा है प्रधान, रो रहे हैं ग्रामीण

हल्की बारिश ने खोली प्रधान और सचिव के ग्राम विकास और साफ सफाई की पोल
पहाड़गांव में सड़कों पर भरा पानी सड़के बनी तालाब
योगी की सख्ती के बावजूद लोगों का हाल है बेहाल

उरई(जालौन): बारिश का मौसम आते ही ग्रामीण इलाकों में परेशानियां बढ गई हैं, खासतौर पर साफ सफाई को लेकर गांवों की बुरी स्थिति है। विकास खंड कोंच के ग्राम पहाडग़ांव में गलियां तालाब बनी हैं, ऐसे में लोग कैसेे घरों से निकलें यह बड़ा सवाल है। ग्रामीणों का कहना है कि गांव में साफ सफाई न होने के कारण नालियां बजबजा रहीं हैं और बारिश की स्थिति में नालियां उफना कर सड़कों को पानी से भर देती हैं।
ग्रामीण क्षेत्र में योगी के सफाई अभियान का कोई असर नहीं दिख रहा हैं। केवल कागजों में सफाई अभियान तेजी पकड़ रहा है जबकि धरातल पर हालात बहुत ही खराब हैं। तहसील के ग्राम पहाडग़ांव में सड़कों पर हिलोरें मार रहे पानी ने सफाई अभियान की पोल खोल कर रख दी है। पहाडग़ांव की गलियों में नालियों का गंदा पानी भरा है जिससे लोगों को घरों से निकलने में भारी परेशानी हो रही है! तहसील के ग्रामीण क्षेत्रों में साफ सफाई की हालत सरकारी रिपोर्टों से बहुत ज्यादा खराब है। ग्राम पहाडग़ांव में महीने भर से सड़क पर भरा बारिश का पानी और नालियों का कीचड़ बुरी तरह दुर्गंध मार रहा है। ग्रामीणों का आरोप है कि कोई सफाई करने बाला नहीं हैं। बच्चों का निकलना तो दूर की बात है बड़े बूढे भी बड़ी मुश्किल से कीचड़ में होकर निकल पा रहे हैं। महिलाओं को मंदिर आने जाने में भी दिक्कत हो रही है। ग्रामीणों को सड़क पर भरे गंदे पानी में पड़ रहे कीड़ों से संक्रामक बीमारियों के फैलने का डर सता रहा है। ग्राम प्रधान हरगोविंद राजपूत का कहना है कि तीन साल पूर्व विधायक निधि से सीसी का निर्माण कराया गया था जिसका ढाल उल्टा है जिसके कारण जल भराव की स्थिति बनी है। पानी की निकासी के लिए निर्माण कराने का इलाकाई कुछ ग्रामीण विरोध कर रहे हैं जिससे स्थिति में सुधार की फिलहाल कम ही गुंजाइश है। इस संबंध में अधिकारियों को अवगत करा कर जल्दी ही जल निकासी की व्यवस्था कराई जाएगी।

संजय श्रीवास्तव-प्रधानसम्पादक एवम स्वत्वाधिकारी, अनिल शर्मा- निदेशक, डॉ. राकेश द्विवेदी- सम्पादक, शिवम श्रीवास्तव- जी.एम.

सुझाव एवम शिकायत- प्रधानसम्पादक 9415055318(W), 8887963126