विदेशों में बसे भारतीयों की वापसी शुरू, सबसे पहले यहां से आएंगे 200 भारतीय

अमर भारती : केंद्र सरकार ने देश के अलग-अलग राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों, छात्रों को उनके घर तक पहुंचाने की पहल की है। इसके बाद अब ऐसी ही शुरुआत अंतरराष्ट्रीय स्तर पर की जा रही है। इसके तहत केंद्र सरकार ने आज से सेना और नेवी के साथ मिलकर मिशन वंदे भारत Mission Vande Bharat शुरू किया है।

इसके तहत सरकार विदेशों में फंसे भारतीय प्रोफेशनल्स, फैमिलीज और स्टूडेंट्स की घर वापसी करवाएगी। इसकी शुरुआत आज से हो चुकी है और सबसे पहले आबूधाबी से 200 लोगों को लेकर पहली उड़ान भारत के लिए रवाना होगी। यह फ्लाइट सुबह 9.45 बजे कोच्चि के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचेगी। आज के दिन अलग-अलग देशों से कुल 2300 भारतीयों को स्वदेश लाया जाएगा।

ऐसे लाएंगे भारत केंद्र सरकार के इस मिशन के तहत पहले चरण में खाड़ी देशों, अमेरिका, ब्रिटेन, सिंगापुर, मालदीव, बांग्लादेश तथा कुछ और देशों से कुल 64 उड़ानों और नौसेना के तीन जहाजों के मामध्यम से 14,800 लोगों को भारत लाया जाएगा। इस मिशन में शामिल नौसेना ने अपने इस अभियान को Samudra Setu नाम दिया है।

विदेश मंत्रालय द्वारा जारी किए गए बयान के नुसार, मिशन के पहले हफ्ते में 13 देशों से कुल 14,800 लोगों को निकालने की तैयारी है। अभियान के पहले दिन यानी गुरुवार को 10 उड़ानों के माध्यम से 2300 भारतीय लौटेंगे वहीं दूसरे दिन नौ देशों से 2050 लोग आएंगे। विदेशों से आने वाले इन सभी लोगों को चेन्नई, कोच्चि, मुंबई, अहमदाबाद, बेंगलुरु और दिल्ली के एयरपोर्ट पर पहुंचाया जाएगा।