लॉकडाउन में घर जाने के लिए नहीं देना होगा ट्रेन का किराया, जानें डिटेल्स

केंद्र सरकार ने देश में Lockdown 3.0 का ऐलान कर दिया है जो 4 मई से 17 मई तक रहेगा। इस दौरान देश में संक्रमण की स्थिति के हिसाब से Red, Orange और Green Zone में बांटा है। इन झोन्स में अलग-अलग शर्तों के साथ छूट मिलेगी। इस बीच सरकार ने प्रवासी कामगारों व छात्रों के लिए विशेष ट्रेनें चलाने को मंजूरी दे दी है। शुक्रवार से चलाई गई विशेष ट्रेनों में सफर करने के लिए किसी को टिकट जारी नहीं किया जाएगा। लोगों को ले जाने का किराया संबंधित राज्य सरकारों से लिया जाएगा। किराया स्लीपर क्लास का होगा और भोजन और पानी के लिए क्रमशः 30 व 20 रुपए प्रति व्यक्ति अलग से लिए जाएंगे।

रेलवे बोर्ड के कार्यकारी निदेशक आरडी बाजपेयी ने बताया कि इन ट्रेनों में उन्हीं यात्रियों को सफर की अनुमति होगी जिन्हें राज्य सरकारें नामित करेंगी। इनके अलावा किसी व्यक्ति विशेष या समूह को न तो टिकट जारी किया जाएगा न ही यात्रा की अनुमति दी जाएगी।

रेलवे सुरक्षा पुलिस (आरपीएफ) के महानिदेशक अरुण कुमार ने बताया कि शुक्रवार को पहली ट्रेन हैदराबाद से झारखंड के हटिया के लिए चली। सुबह 4.50 पर चली 24 बोगियों वाली ट्रेन की हर यात्री बोगी में 54 यात्री बैठाए गए। रात सवा ग्यारह बजे यह हटिया पहुंच गई। इसी तरह नासिक से भोपाल के लिए रात साढ़े नौ बजे 324 प्रवासियों को लेकर ट्रेन रवाना हुई।

जो अन्य ट्रेनें चलीं वे अलुवा से भुवनेश्वर शाम छह बजे, नासिक से लखनऊ रात 9.30 बजे, जयपुर से पटना रात 10 बजे और कोटा से हटिया रात नौ बजे रवाना हुईं। कोट से चली ट्रेन में अधिकतर छात्र हैं।