मुंबई में 17 मई तक धारा 144 लागू, अनावश्यक सेवा के लिए निकलने पर रोक

अमर भारती : देश इस वक्त कोरोना महामारी के महासंकट से गुजर रहा है। कोरोना मरीजों की संख्या 46 हजार को पार कर चुकी है, वहीं रोजाना हजारों नए मरीज सामने आ रहे हैं। इस मुश्किल वक्त पर संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन एक बार फिर बढ़ाया जा चुका है।

इसे 17 मई तक कर दिया गया है। हालांकि लॉकडाउन के तीसरे चरण में सरकार ने लोगों को कई राहत भी दी हैं। सबसे बड़ी राहत अन्य राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों को मिली है। सरकार ने राज्यों को शर्तों के साथ मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।

कोरोना संक्रमण से देश में 1500 से ज्यादा मौतें भी हो चुकी हैं। इस बीच प्लाज्मा थेरेपी का ट्रायल कई राज्यों में जारी है, इसके शुरुआती परिणाम उत्साहवर्धक नजर आए हैं। वहीं सरकार का ध्यान अब कोरोना संक्रमण रोकने के साथ ही देश की बिगड़ी हुई अर्थव्यवस्था सुधारने पर भी टिक गया है।