शौचालय निर्माण का कमीशन नहीं दिया तो बेटे को अगवा कर मार डाला

अमर भारती : किसान ने शौचालय निर्माण के लिए मिले 12 हजार रुपये में चार हजार रुपये बतौर कमीशन के लिए नहीं दिए तो दलालों ने बदमाशों के जरिए उसके 11 साल के इकलौते पुत्र को अगवा कर मौत के घाट उतार दिया। उसके बाद शव को टुकड़े-टुकड़े कर बोरे में बंदकर गांव के बाहर फेंक दिया। बिहार के नालंदा में परवलपुर थाना क्षेत्र के अस्तुपुर गांव के किसान अजय महतो के पुत्र अंकित कुमार का शव बरामद कर लिया गया है।

पीड़ित पिता ने इस मामले में चार नामजद और दो अज्ञात के खिलाफ परवलपुर थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। पुलिस ने इसमें से तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक इनकी निशानदेही पर रविवार की रात 2 बजे शव बरामद किया गया। वारदात में एक पंचायत प्रतिनिधि की भी भूमिका है। हिलसा डीएसपी मो.इम्तियाज के मुताबिक स्पीडी ट्रायल चलवाकर दोषियों को सजा दिलाई जाएगी।

जानकारी के मुताबिक, अंकित को रविवार को दिन में तीन मोटरसाइकिल सवार छह बदमाशों ने अस्तुपुर गांव से अगवा कर लिया था। गांव की एक महिला ने उसको ले जाते देखा भी था। महिला ने बच्चे के पिताअजय को जानकारी दी। उसने बताया कि गांव के सूरज कुमार (20), निरंजन कुमार उर्फ नीरू (21), धनुष महतो (50) व पुरंदरपुर मनारा गांव के त्रिभुवन कुमार (20) और दो अन्य अज्ञात बच्चे को अगवा कर बाइक से ले गए हैं। अजय महतो रविवार देर शाम गांव के युवक सूरज के घर पहुंचे और बेटे के बारे में उससे पूछताछ की थी।